×

AAP नेताओं की खुली पोल: इस खतरनाक संगठन से जुड़े हैं तार, ED ने किया बेनकाब

पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) को लेकर प्रवर्तन निदेशालय ने PFI और शाहीन बाग में नागरिकता संशोधित कानून (CAA) के खिलाफ धरने को फंडिंग पर केंद्रीय गृह मंत्रालय को एक रिपोर्ट सौंपी है। ईडी को 73 बैंक अकाउंट का पता चला है इनमें से 27 पीएफआई के हैं।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 6 Feb 2020 9:53 AM GMT

AAP नेताओं की खुली पोल: इस खतरनाक संगठन से जुड़े हैं तार, ED ने किया बेनकाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी की जांच में बड़ा खुलासा हुआ है । दरअसल ईडी पीएफआई की जांच कर रहा है। जिसमें खुलासा हुआ है कि पीएफआई के बैंक खातों में जमा करोड़ों रुपये नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसा भड़काने के लिए इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

ईडी को 73 बैंक अकाउंट का पता चला

पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) को लेकर प्रवर्तन निदेशालय ने PFI और शाहीन बाग में नागरिकता संशोधित कानून (CAA) के खिलाफ धरने को फंडिंग पर केंद्रीय गृह मंत्रालय को एक रिपोर्ट सौंपी है। ईडी को 73 बैंक अकाउंट का पता चला है इनमें से 27 पीएफआई के हैं।

ईडी की रिपोर्ट के मुताबिक आम आदमी पार्टी (AAP) के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के तार भी पीएफआई से जुड़े हुए थे। इसमें कहा गया है कि संजय सिंह पीएफआई के अध्यक्ष मोहम्मद परवेज अहमद से लगातार संपर्क में थे। ईडी ने कहा है कि संजय सिंह और परवेज के बीच वाट्सऐप चैट भी की गई है।

ये भी देखें : इतनी टेलैंटेड केजरीवाल की बेटी: करती हैं ये जॉब, चुनाव में पिता का दे रही साथ

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भीम आर्मी और कांग्रेस के नेता उदिज राज के भी PFI से संबंध थे। ईडी अधिकारियों का कहना है कि जिन-जिन का नाम सामने आया है उन्हें आने वाले समय में नोटिस भेजा जाएगा और इस संबंध में जवाब तलब किया जाएगा।

PFI से AAP और कांग्रेस के लिंक होने के तथ्य- गृह मंत्रालय

इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने न्यूज़ 18 से बातचीत में कहा कि तथ्य अब सामने आ गए हैं कि किस तरह से पीएफआई के लिंक आम आदमी पार्टी और कांग्रेस से जुड़ा है, और कैसे इसके लिए फंडिंग की जा रही है। नित्यानंद राय ने एक बार फिर कहा कि शाहीन बाग प्रोटेस्ट के पीछे आम आदमी पार्टी का हाथ है।

ये भी देखें : इतनी टेलैंटेड केजरीवाल की बेटी: करती हैं ये जॉब, चुनाव में पिता का दे रही साथ

PFI पर बैन लगाने की मांग

बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने PFI को बैन करने की मांग की है। इस बारे में यूपी सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को पत्र भी लिखा था। यूपी सरकार ने कहा था कि CAA के विरोध में राज्य में जिस तरह के हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए, उसके पीछे इस संगठन का हाथ बताया जा रहा है। प्रदेश के तत्कालीन डीजीपी ओपी सिंह ने भी कहा था कि राज्य के कई इलाकों में दंगा और तोड़फोड़ करने के आरोप में पीएफआई के 25 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story