×

इस BJP नेता ने दिया विवादित बयान, स्वतंत्रता सेनानी को बताया पाकिस्तानी एजेंट

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक बसवराज यतनाल ने कर्नाटक विधानसभा में एक विवादित बयान दे दिया। इसके बाद विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 3 March 2020 4:09 PM GMT

इस BJP नेता ने दिया विवादित बयान, स्वतंत्रता सेनानी को बताया पाकिस्तानी एजेंट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक बसवराज यतनाल ने कर्नाटक विधानसभा में एक विवादित बयान दे दिया। इसके बाद विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ।

विधायक यतनाल ने स्वतंत्रता सेनानी एच. एस दोरेस्वामी पर अभ्रद टिप्पणी कर दी। इसके बाद हंगामे के कारण सदन की कार्रवाई स्थगित करनी पड़ी।

कर्नाटक विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक द्वारा आपत्तिजनक बयान देने के बाद जोरदार हंगामा हुआ। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बजट सत्र के दौरान भाजपा विधायक बीपी यतनाल ने सोमवार को स्वतंत्रता सेनानी एच. एस दोरेस्वामी को नकली स्वतंत्रता सेनानी और पाकिस्तानी एजेंट कह दिया।

इसके बाद विपक्ष का हंगामा शुरू हो गया और सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी। इस दौरान वहां मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा भी मौजूद थे। उन्होंने राज्यपाल के अभिभाषण के बाद धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान सदन को संबोधित किया।

कर्नाटक बीजेपी ने राहुल पर भी बोला था हमला

इससे पहले सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट में कहा था कि वह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म छोड़ने पर विचार कर रहे हैं। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा था, 'इस रविवार, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर सोशल मीडिया अकाउंट्स को छोड़ने की सोच रहा हूं। आप सभी को पोस्ट करता रहूंगा।' उन्होंने अपने व्यक्तिगत ट्विटर हैंडल से इसकी जानकारी दी थी।

प्रधानमंत्री मोदी के इस ट्वीट के बाद सियासी हलचल भी तेज हो गई थी। पीएम के ट्वीट पर राहुल गांधी ने तंज कसा तो बीजेपी कर्नाटक ने भी पलटवार करने में देर नहीं की।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी के ट्वीट पर लिखा था, 'नफरत को छोड़िए, सोशल मीडिया नहीं।' इस पर बीजेपी कर्नाटक ने लिखा था, 'भारत में अब राजीव फिरोज गांधी या एडविज एंटोनिया अल्बिना मेनो का शासन नहीं है। ये प्रधानमंत्री मोदी की सत्ता है। आशा है कि आप इस सच्चाई को महसूस करेंगे।

ये भी पढ़ें...विवादित है मस्जिद के लिए दी गई जमीन, SC के आदेश पर फंसी योगी सरकार

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story