×

पर्रिकर के स्वास्थ्य के बारे में अनुमान लगाना गलत बात : भाजपा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 March 2018 10:21 AM GMT

पर्रिकर के स्वास्थ्य के बारे में अनुमान लगाना गलत बात : भाजपा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पणजी : भाजपा की गोवा इकाई ने रविवार को कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के स्वास्थ्य के बारे में अनुमान लगाना सही बात नहीं है। आधिकारिक बयान के मुताबिक, 15 फरवरी को सार्वजनिक उपस्थिति के बाद पर्रिकर को फिर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनका हल्के अग्नाशयशोथ, पानी की कमी और निम्न रक्तचाप का उपचार किया जा रहा है।

ये भी देखें : अज़ान के वक्त PM ने भाषण रोकने पर आजम का तंज-‘…ये अल्लाह का खौफ है’

15 फरवरी को मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती होने के बाद से पहली बार पर्रिकर के स्वास्थ्य के बारे में मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए गोवा भाजपा इकाई के महासचिव सदानंद शेट तांवड़े ने कहा, "जब हम उनसे मिले, हमने संगठनात्मक मुद्दों के बारे में बात की। वह सामान्य दिनों के तरह फाइलें चेक कर रहे हैं, लेकिन लोगों से नहीं मिल रहे हैं क्योंकि चिकित्सकों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी है।"

उन्होंने कहा, "हम अटकलों में शामिल नहीं हो सकते। यह ठीक नहीं है। उनकी निजी जिंदगी के बारे में नहीं पूछा जाना चाहिए, यह गलत बात है।"

ये भी देखें : गोवा: बीमार मनोहर पर्रिकर अस्पताल में ही दे रहे बजट को अंतिम रूप

रविवार को प्रेस वार्ता में मौजूद गोवा भाजपा इकाई के अध्यक्ष विनय तेंदुलकर ने कहा कि यह केवल गोवा में सभी समुदायों की प्रार्थनाओं और चिकित्सकों के उपचार से हुआ कि मुख्यमंत्री कुछ देर के लिए 22 फरवरी को वापस लौट सके और राज्य विधानसभा में वार्षिक बजट पेश किया।

तेंदुलकर ने कहा, "जब वह मुंबई में भर्ती हुए थे, उस वक्त गोवा में मुस्लिमों, हिंदुओं और इसाईयों ने उनके स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना की थी। उनकी प्रार्थनाओं और चिकित्सकों के प्रयास से वह 22 फरवरी को गोवा आए और सदन में बजट पेश कर सके।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story