×

Delhi MCD Election: भाजपा का पसमांदा कार्ड पूरी तरह फेल, चारों मुस्लिम उम्मीदवार चुनाव में ढेर

Delhi MCD Election: दिल्ली नगर निगम के चुनावों में आम आदमी पार्टी ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है। दिल्ली नगर निगम पर पिछले 15 वर्षों से भाजपा का कब्जा बना हुआ था।

Anshuman Tiwari
Published on: 7 Dec 2022 10:52 AM GMT
BJPs Pasmanda card failed completely, all four Muslim candidates lost in the election
X

भाजपा का पसमांदा कार्ड पूरी तरह फेल, चारों मुस्लिम उम्मीदवार चुनाव में ढेर: Photo- Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Delhi MCD Election Result 2022: दिल्ली नगर निगम (Delhi Municipal Corporation) के चुनावों में आम आदमी पार्टी ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है। दिल्ली नगर निगम पर पिछले 15 वर्षों से भाजपा का कब्जा बना हुआ था मगर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) विधानसभा के बाद दिल्ली एमसीडी में भी भाजपा (BJP) का किला ढहाने में कामयाब हो गए हैं। एमसीडी चुनावों को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा था मगर भाजपा की ओर से पूरी ताकत लगाने के बावजूद पार्टी एमसीडी पर अपना कब्जा बनाए रखने में विफल साबित हुई है।

हाल के दिनों में भाजपा और संघ की ओर से मुस्लिमों को रिझाने की कोशिशें जरूर की जा रही हैं मगर एमसीडी चुनावों में भाजपा का यह दांव पूरी तरह फेल होता दिखा। दिल्ली एमसीडी के चुनाव में पसमांदा कार्ड खेलते हुए भाजपा की ओर से चार मुस्लिम उम्मीदवार उतारे गए थे मगर एमसीडी के नतीजों में इन चारों उम्मीदवारों को हार का मुंह देखना पड़ा है।

एमसीडी में फेल हुआ भाजपा का पसमांदा कार्ड

दिल्ली के कई इलाके मुस्लिम बहुल हैं और यहां मुस्लिम मतदाता ही हार और जीत का फैसला करते रहे हैं। भाजपा ने ऐसे इलाकों में मुस्लिम उम्मीदवार उतार कर जीत हासिल करने का सपना देखा था मगर पार्टी का यह कार्ड फेल साबित हुआ है। हालांकि इस बार के एमसीडी चुनाव में भाजपा ने 2017 की अपेक्षा कम मुस्लिम उम्मीदवार उतारे थे।

2017 के एमसीडी चुनाव में भाजपा ने 6 मुस्लिम उम्मीदवार उतारे थे जबकि इस बार पार्टी की ओर से चार मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया गया था। भाजपा की ओर से चारों टिकट पसमांदा समाज (ओबीसी) को दिए गए थे मगर चारों मुस्लिम उम्मीदवार मतदाताओं का दिल जीतने में नाकाम साबित हुए और उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा।

आप और कांग्रेस प्रत्याशियों से मिली हार

इस बार के एमसीडी चुनाव में भाजपा की ओर से मुस्तफाबाद से शबनम मलिक, चांदनी महल से इरफान मलिक, कुरैशी नगर वेस्ट से शमीन रजा कुरैशी और चौहान बांगर से सबा गाजी को भाजपा का टिकट दिया गया था। पार्टी को इन प्रत्याशियों से काफी उम्मीदें थीं मगर ये चारों प्रत्याशी भाजपा की अपेक्षा पर खरे नहीं उतरे हैं। एमसीडी के चुनाव नतीजों में इन चारों प्रत्याशियों को शिकस्त झेलनी पड़ी है।

मुस्तफाबाद से कांग्रेस की सबीला बेगम ने शबनम मलिक को हराया है। चांदनी महल से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार मोहम्मद इकबाल को जीत हासिल हुई है। कुरैशी नगर सीट पर भी आप ने जीत का परचम फहराया है। इस सीट पर आप की शमीम बानो ने भाजपा प्रत्याशी रजा कुरैशी को हरा दिया है। चौहान बांगर से कांग्रेस की शगुफ्ता को जीत हासिल हुई है।

दिल्ली के बाकी इलाकों में भले ही कांग्रेस की हालत पतली हो मगर मुस्लिम बहुल इन दो सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों ने जीत हासिल की है। सियासी जानकारों का मानना है कि भाजपा का पसमांदा कार्ड फेल होता दिख रहा है। पार्टी अभी तक हिंदुत्व का कार्ड खेलकर ही जीत हासिल करती रही है और इस कारण पार्टी के पसमांदा कार्ड को कामयाबी नहीं मिली है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story