#BUDGET: नेताओं की जुबानी- किसी ने कहा सर्जिकल स्ट्राइक, तो किसी ने कहा झूठी बात

यूपी के सीएम योगी ने कहा कि मोदी सरकार का यह बजट स्वागत योग्य है। सीएम योगी ने उम्मीद जताई कि बजट न्यू इंडिया के सपने को साकार करने में मददगार होगा। उन्होंने कहा कि इस बजट में किसान, मध्यम वर्ग, गरीब, महिलाओं समेत हर वर्ग का ख्याल रखा गया है।

नई दिल्ली: कार्यवाहक वित्‍त मंत्री पीयूष गोयल ने चुनाव से पहले अंतरिम बजट पेश किया। मोदी सरकार का यह आखिरी बजट है। अंतरिम बजट पर राजनेताओं की प्रतिक्रियाएं भी आने लगी हैं।

अरुण जेटली ने ट्वीट कर इस बजट को अर्थव्यवस्था की चुनौतियों से लड़ने वाला बजट बताया और इसके लिए प्रभारी वित्त मंत्री पीयूष गोयल और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी है। जेटली ने कहा कि यह बजट विकास उन्मुख, किसान समर्थक, गरीब समर्थक और मध्य वर्ग के लिए असरदार साबित होगा। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इसे ऐतिहासिक बजट बताते हुए कहा कि इससे समाज के हर वर्ग को फायदा मिलेगा।

यह भी पढ़ें…..#BUDGET: अरुण जेटली ने कहा, अर्थव्यवस्था की चुनौतियों से लड़ने वाला बजट

राम विलास पासवान ने अंतरिम बजट को दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक करार दिया है।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अंतरिम बजट को ऐतिहासिक करार दिया है। राजनाथ सिंह ने कहा है कि इस बजट से समाज के हर तबके को फायदा होगा।

यूपी के सीएम योगी ने कहा कि मोदी सरकार का यह बजट स्वागत योग्य है। सीएम योगी ने उम्मीद जताई कि बजट न्यू इंडिया के सपने को साकार करने में मददगार होगा। उन्होंने कहा कि इस बजट में किसान, मध्यम वर्ग, गरीब, महिलाओं समेत हर वर्ग का ख्याल रखा गया है।

यह भी पढ़ें…..बजट भाषण के बाद शेयर मार्केट में भारी उछाल, सेंसेक्स में 452 अंकों की तेजी

कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा कि हमने पहले से ही प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए गाइड लाइन जारी कर दिए हैं और छोटो-सीमांत किसानों को अब हर साल 6 हजार रुपये मिलेंगे। मार्च से पहले हम किसानों के बैंक खातों में 2 हजार रुपये की किस्त डालने जा रहे हैं। अगले वित्त वर्ष से किसानों को पूरी 6 हजार रुपये प्रति वर्ष दिए जाएंगे।

बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा कि यह पूरी कवायद फुस्स पटाखे की तरह साबित हो चुकी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने मध्य वर्ग के लिए इनकम टैक्स की सीमा को बढ़ाया है जो एक अच्छी बात है, लेकिन दूसरी ओर किसानों को 500 रुपये प्रति माह देने का ऐलान किया गया है जो बेअसर रहेगा, क्योंकि इससे वह गौरवपूर्ण जीवन तक नहीं जी सकते।

यह भी पढ़ें…..#BUDGET: अरुण जेटली ने कहा, अर्थव्यवस्था की चुनौतियों से लड़ने वाला बजट

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पूरे बजट को झूठा बताया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, एक साल के बजट में दस साल आगे की झूठी बात है। बहुसंख्यक भूमिहीन किसानों व श्रमिकों के लिए इसमें कुछ भी राहत नहीं है। पांच सालों की प्रताड़ना और पीड़ा के बाद देश के किसान, व्यापारी-कारोबारी, बेरोजगार युवा अब बीजेपी से मुक्ति चाहते हैं, दिखावटी ऐलान नहीं।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बजट परकहा कि यह बजट गरीब लोगों के लिए है। इनकम टैक्स में राहत देकर मिडिल क्लास को बहुत बड़ी राहत मिली है। इस बजट से करीब 40 से 50 करोड़ लोगों को किसी न किसी तरीके से फायदा मिलेगा।

यह भी पढ़ें…..छोटे किसानों को सालाना 6000 रुपए देने का ऐलान, जानें पूरा माजरा!

 

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App