Top

CBI का बड़ा एक्शन: रेलवे में भ्रष्टाचार का खुलासा, हाथ लगे अफसर समेत कर्मचारी

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने रिश्वत लेने के मामले में रेलवे के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया है। अधिकारी के ऊपर 1 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का मामला दर्ज हुआ है। टीम द्वारा महेंद्र सिंह के साथ दो अन्य लोगों को भी पकड़ा गया है। जिसके चलते इनके पास से एक करोड़ रुपये भी बरामद कर लिया गया है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 17 Jan 2021 12:05 PM GMT

CBI का बड़ा एक्शन: रेलवे में भ्रष्टाचार का खुलासा, हाथ लगे अफसर समेत कर्मचारी
X
सीबीआई की टीम द्वारा महेंद्र सिंह के साथ दो अन्य लोगों को भी पकड़ा गया है। जिसके चलते इनके पास से एक करोड़ रुपये भी बरामद कर लिया गया है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी महेंद्र सिंह चौहान को केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार किया है। अधिकारी के ऊपर 1 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का मामला दर्ज हुआ है। टीम द्वारा महेंद्र सिंह के साथ दो अन्य लोगों को भी पकड़ा गया है। जिसके चलते इनके पास से एक करोड़ रुपये भी बरामद कर लिया गया है। सीबीआई ने 1985 बैच के अधिकारी महेंद्र सिंह को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है।

ये भी पढ़ें... कोयला खनन केस: पश्चिम बंगाल में 10 जगहों पर सीबीआई की छापेमारी जारी

20 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के सूत्रों ने मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि रेलवे में हाल के दिनों में इतनी बड़ी मात्रा में रिश्तव लेते हुए रंगे हाथ पकड़े जाने का यह बड़ा मामला है। अधिकारी नॉर्दन ईस्टर्न फ्रंटियर रेलवेज में काम दिलाने के नाम पर रिश्वत की मांग कर रहा था। जिसके चलते सीबीआई(CBI) ने पांच राज्यों में 20 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी की है।

railway फोटो-सोशल मीडिया

ऐसे में मिली जानकारी के मुताबिक, सीबीआई ने 1 करोड़ रुपये का रिश्वत लेने के आरोप में महेंद्र सिंह चौहान को गिरफ्तार किया है। महेंद्र सिंह चौहान पर नॉर्दन ईस्टर्न फ्रंटियर रेलवेज में एक प्राइवेट कंपनी को काम दिलाने के नाम पर रिश्वत मांगने का आरोप है। इनके अलावा जिन दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है वो महेंद्र सिंह चौहान के नाम पर रिश्वत ले रहे थे।

रंगे हाथों पकड़े गए

इस बारे में सीबीआई सूत्रों ने बताया कि इसकी जानकारी मिली थी कि महेंद्र सिंह चौहान पूर्वोत्तर रेलवे में काम दिलाने के नाम पर एक कंपनी से 1 करोड़ रुपये की रिश्वत मांग रहा है। फिर बाद में जाल बिछाया गया। और महेंद्र सिंह चौहान के कथित सहयोगी से जब रिश्वत ले रहे थे, उसी समय सीबीआई के अफसर मौके पर पहुंच गए। जहां वे रंगे हाथों पकड़े गए।

ये भी पढ़ें...अयोध्या स्थित विवादित ढांचा ध्वंस का मामला: सीबीआई विशेष कोर्ट के फैसले को हाईकोर्ट में दी गई चुनौती

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story