Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

अयोध्या विवाद: फैसले की घड़ी नजदीक, चीफ जस्टिस ने रद्द की विदेश यात्रा

बता दें कि सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की संवैधानिक बेंच ने 40 दिनों तक अयोध्या मामले की लगातार 40 दिन तक सुनवाई की है। अयोध्या मामले का फैसला 4 नवंबर से 17 नवंबर के बीच आने की उम्मीद की जा रही है, क्योंकि सीजेआई गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 17 Oct 2019 4:36 AM GMT

अयोध्या विवाद: फैसले की घड़ी नजदीक, चीफ जस्टिस ने रद्द की विदेश यात्रा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले की सुनवाई पूरी हो गई है। अब फैसले की घड़ी नजदीक है। माना जा रहा है कि 17 नवंबर से पहले फैसला आ जाएगा। इसी बीच खबर है कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अपनी विदेश यात्रा रद्द कर दी है। उन्हें किसी आधिकारिक कार्यक्रमों में शामिल होने विदेश जाना था।

ये भी पढ़ें— अयोध्या मामला: आज बंद दरवाजों के पीछे होगी जजों की बैठक

गोगोई के नेतृत्व वाली पीठ ने अयोध्या मामले में बुधवार को सुनवाई पूरी करने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया है। चीफ जस्टिस को 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होने से पहले कुछ दक्षिण अमेरिकी देशों, मध्य पूर्व और कुछ अन्य देशों की यात्रा पर जाना था। लेकिन इसके ठीक पहले उन्होंने कार्यक्रम रद्द कर दिया है। गोगोई ने पिछले साल 3 अक्टूबर को भारत के 46वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ ली थी।

खुशखबरी! राममंदिर पर इस महीने हो जाएगा फैसला

ये भी पढ़ें— आने ही वाला है राम मंदिर पर फैसला: अयोध्या के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप

बता दें कि सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की संवैधानिक बेंच ने 40 दिनों तक अयोध्या मामले की लगातार 40 दिन तक सुनवाई की है। अयोध्या मामले का फैसला 4 नवंबर से 17 नवंबर के बीच आने की उम्मीद की जा रही है, क्योंकि सीजेआई गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story