काशी पहुंचे पीयूष गोयल, स्वच्छ गंगा के लिए यूपी सरकार से करेंगे बात

Published by Rishi Published: May 22, 2016 | 4:27 am
Modified: May 23, 2016 | 11:01 pm

वाराणसीः केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि कचरा निकालने से ही गंगा साफ नहीं होगी। उसे साफ करने के लिए कारखानों से निकलने वाले गंदे पानी को फिल्टर करके नदी में डालना होगा। इसके लिए यूपी सरकार से बातचीत जारी है।

नमामि गंगे पर गोयल ने क्या कहा?
-नमामि गंगे योजना के तहत सीवेज ट्रीटमेंट करना जरूरी है।
-बगैर इसके गंगा नदी कभी साफ नहीं हो सकेगी।
-ऐसी व्यवस्था करेंगे जो वैकल्पिक न होकर हमेशा के लिए हो।

बिजली व्यवस्था पर भी बोले
-यूपी को एक करोड़ एलईडी बल्ब दिए गए हैं।
-पूर्वांचल इलाके में ही अभी तक 49 लाख बल्ब दिए गए हैं।
-जितने भी बल्बों की जरूरत पड़ेगी, हम मुहैया कराएंगे।
-आईडीपीएस योजना से 590 लोग जुड़े हैं, बाद में हजार लोग जोड़े जाएंगे।
-डेढ़ साल में ही आईडीपीएस योजना के तहत काम पूरा कर लेंगे।

कांग्रेस पर फोड़ा ठीकरा
-पीयूष गोयल ने कांग्रेस की सरकारों पर निशाना साधा।
-ऊर्जा मंत्री ने कहा कि पहले विकास के काम कई साल चलते रहते थे।
-काम की गुणवत्ता भी खराब होने की बात कही।
-मोदी सरकार के दौरान पारदर्शिता और नई तकनीकी के इस्तेमाल का दावा किया।