×

CM Yogi in Hyderabad: ओवैसी के गढ़ में छा गए योगी, भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा करके चला हिंदुत्व का कार्ड

CM Yogi Hyderabad Video: भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन सुबह योगी आदित्यनाथ ने भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा करके बड़ा सियासी संदेश देने की कोशिश की।

Anshuman Tiwari
Written By Anshuman Tiwari
Updated on: 3 July 2022 5:27 AM GMT
X

हैदराबाद में सीएम योगी  

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

CM Yogi Hyderabad Video: भारतीय जनता पार्टी (BJP) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के पहले दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi in Hyderabad) काफी चर्चाओं में रहे। उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव जीतने के बाद हो रही भाजपा की इस पहली बड़ी बैठक में योगी सबके लिए आकर्षण का केंद्र बने रहे। आजमगढ़ (Azamgarh) और रामपुर (Rampur) में सपाई किलों को ध्वस्त करने में मिली कामयाबी के लिए योगी सरकार की सराहना की गई।

हैदराबाद को एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी (asaduddin owaisi) का गढ़ माना जाता है। सियासी क्षेत्र में योगी और ओवैसी के बीच छत्तीस का आंकड़ा रहा है और दोनों नेता एक-दूसरे पर हमले का कोई मौका नहीं चूकते। भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन सुबह योगी आदित्यनाथ ने भाग्यलक्ष्मी मंदिर (bhagyalakshmi temple) में पूजा करके बड़ा सियासी संदेश देने की कोशिश की। योगी आदित्यनाथ ने हिंदुत्व का कार्ड चलते हुए सुबह-सुबह ही इस मंदिर में पूजा की। इस मौके पर उनके साथ काफी संख्या में लोग मौजूद थे।

बड़ा संदेश देने की योगी की कोशिश

ओवैसी के गढ़ हैदराबाद में चारमीनार स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर काफी चर्चाओं में रहा है। पिछले दिनों यहां पर पूजा और नमाज को लेकर विवाद भी पैदा हो चुका है। इस मंदिर की उत्पत्ति को लेकर भी विवाद रहा है। इस मंदिर को 1960 के दशक में बनाए जाने की बात कही जाती है। हाईकोर्ट की ओर से इस मंदिर के विस्तार पर रोक भी लगाई जा चुकी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज सुबह इसी मंदिर में पूजा करने के लिए पहुंचे। उनके साथ काफी संख्या में समर्थक भी मौजूद थे। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने भाग्यलक्ष्मी मंदिर में भव्य आरती की। माना जा रहा है कि इसके जरिए योगी आदित्यनाथ ने बड़ा संदेश देने की कोशिश की है।

भाजपा की बैठक में छा गए योगी

पिछले दिनों पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने चार राज्यों में जीत हासिल करके ताकत दिखाई थी। खासतौर पर उत्तर प्रदेश में मिली जीत को भाजपा की बड़ी कामयाबी माना गया। सियासी नजरिए से उत्तर प्रदेश हर राजनीतिक दल के लिए काफी अहम है और भाजपा ने यहां अपनी सत्ता बरकरार रखकर एक बार फिर अपनी ताकत दिखा दी है। इसके साथ ही हाल में रामपुर और आजमगढ़ में हुए लोकसभा उपचुनाव में भी भाजपा ने सपाई किलो को ध्वस्त करते हुए शानदार जीत हासिल की है।

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में उत्तर प्रदेश की इस जीत की काफी चर्चा रही। इस जीत के लिए पार्टी के तमाम नेताओं ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बधाई दी। इस तरह राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ छाए रहे। वक्ताओं का कहना था कि मोदी के नाम और योगी के काम के बल पर भाजपा बड़ी कामयाबी हासिल करने में सक्षम हुई। भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने भी अपने संबोधन के दौरान इस बात का विशेष रूप से जिक्र किया और इसे डबल इंजन की सरकार की जीत बताया।

पीएम मोदी के संबोधन पर सबकी निगाहें

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन आज सबकी निगाहें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन पर टिकी हुई हैं। भाजपा सूत्रों का कहना है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की ओर से आज राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया जाएगा। भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री इस प्रस्ताव का समर्थन करेंगे। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई राजनीतिक प्रस्ताव पर अपनी बात रखेंगे।

भाजपा सूत्रों का कहना है कि बैठक के दूसरे दिन देश के कई राज्यों में राजनीतिक हिंसा और विपक्ष की ओर से सरकार की छवि बिगाड़ने की कोशिशों पर भी चर्चा संभावित है। आज की बैठक के दौरान सबसे महत्वपूर्ण बात प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन होगा। माना जा रहा है कि अपने संबोधन में पीएम मोदी भाजपा कार्यकर्ताओं को बड़ा संदेश देने की कोशिश करेंगे। बैठक के समापन के बाद पीएम मोदी परेड ग्राउंड में एक बड़ी जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

Monika

Monika

Next Story