×

Congress Mission 2024: पार्टी को मजबूत करेंगे राहुल गांधी, निकल रहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक पदयात्रा पर

Congress Mission 2024: राजस्थान में कांग्रेस पार्टी इन दिनों अपने चिंतन शिविर का आयोजन किया हुआ है। वहीं पार्टी को मजबूत करने के लिए राहुल गांधी कश्मीर से कन्याकुमारी तक की यात्रा करेंगे।

Bishwa Maurya
Published on 15 May 2022 3:56 AM GMT
rahul gandhi compare india with sri lanka graphics on social media twitter
X

राहुल गांधी (तस्वीर साभार : सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Congress Mission 2024: विधानसभा चुनाव 2022 में कांग्रेस पार्टी को मिली करारी हार के बाद कांग्रेस इन दिनों राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर (Udaipur) में चिंतन शिविर (Congress Chintan Shivir) लगाकर पार्टी के अंदर मौजूद कमियों तथा पार्टी को किस तरह फिर से खड़ा किया जाए इन बातों को लेकर चर्चा कर रही है। कांग्रेस अपने इन शिविरों तथा कार्यक्रमों के माध्यम से 2024 लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2024) के लिए कमर कसने में लग गई है। इन सबके बीच एक खबर सामने आई है कि कांग्रेस को फिर से पहले की तरह खड़ा करने के लिए राहुल गांधी (Rahul Gandhi) जल्द ही कश्मीर (Kashmir) से कन्याकुमारी (Kanyakumari) तक पदयात्रा करेंगे।

चिंतन शिविर में उठी ये मांग

राजस्थान के उदयपुर में बीते 2 दिनों से कांग्रेस का चिंतन शिविर चल रहा है। आज तीसरे दिन भी चिंतन शिविर में कांग्रेस के कई बड़े नेता पार्टी को फिर से मजबूत बनाने के लिए मंथन करेंगे। सूत्रों के मुताबिक इस चिंतन शिविर कार्यक्रम में कांग्रेस के G23 नेताओं ने पार्लियामेंट्री बोर्ड बनाने की मांग की है।

गौरतलब है कि उदयपुर में चल रहे कांग्रेस के चिंतन शिविर में राहुल गांधी और सोनिया गांधी समेत पार्टी के सभी प्रदेश प्रभारीयों, विधायक दल के नेताओं, पार्टी के महासचिव तथा प्रदेश इकाई के अध्यक्षों समेत कई अन्य दिग्गज नेता भी हिस्सा ले रहे हैं। इन सभी कांग्रेस नेताओं के बीच इस बात को लेकर सबसे ज्यादा मंथन हो रही की किस तरह कांग्रेस पार्टी के संगठन को पूर्व की तरह ही मजबूत बनाया जाए।

हाल में कांग्रेस को मिली करारी हार

कांग्रेस पार्टी ने अपने चिंतन शिविर का आयोजन तब किया है जब हाल ही में उत्तर प्रदेश उत्तराखंड और पंजाब समेत देश के पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा। कांग्रेस पार्टी को सबसे ज्यादा नुकसान पंजाब और उत्तराखंड में हुआ। पंजाब में तो कांग्रेस पूर्व में सत्ता पर काबिज रही मगर 2022 के चुनाव में आम आदमी पार्टी के लहर में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता बह गए। इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार चरणजीत सिंह चन्नी, उस वक्त कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू समेत कई दिग्गज नेताओं को आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों ने पटकनी दे दिया।

वहीं पंजाब के अलावा उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस पार्टी का प्रदर्शन बेहद खराब रहा। इस चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता हरीश रावत समेत कई अन्य बड़े कांग्रेसी नेताओं को करारी हार का सामना करना पड़ा और उत्तराखंड की सत्ता पर एक बार फिर बहुमत हासिल कर बीजेपी ने कब्जा जमा लिया। उधर उत्तर प्रदेश में बीते कुछ सालों से बेहद सक्रिय रहीं। प्रियंका गांधी को चुनाव में कांग्रेस पार्टी के बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी मगर उत्तर प्रदेश में भी कांग्रेस पार्टी पूर्व की तरह ही महज 2 सीटों पर सिमट कर रह गई और यूपी में लगातार दूसरी बार बड़े बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी ने सरकार बनाया।

Bishwa Maurya

Bishwa Maurya

Next Story