बलूचिस्तान पर खुर्शीद से कांग्रेस ने झाड़ा पल्ला, PM की आलोचना की थी

Published by Published: August 15, 2016 | 2:56 pm
Modified: August 29, 2016 | 3:59 pm
बलूचिस्तान

सलमान खुर्शीद (बाएं) और पीएम मोदी

नई दिल्लीः पाकिस्तान से आजादी चाह रहे बलूचिस्तान के मुद्दे पर अपने सीनियर नेता सलमान खुर्शीद की राय से कांग्रेस ने खुद को अलग कर लिया है। खुर्शीद ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बलूचिस्तान का जिक्र करने पर पीएम मोदी की आलोचना की थी। कांग्रेस का कहना है कि खुर्शीद ने जो कहा, वो उनकी निजी राय है, उसका पार्टी से लेना-देना नहीं है।

क्या बोले थे खुर्शीद?
पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने भाषण में बलूचिस्तान का जिक्र करने पर मोदी की आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि इससे पाकिस्तान को भारत के आंतरिक मामलों में दखल देने का मौका मिलता है। खुर्शीद ने कहा था कि बलूचिस्तान और पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) अलग हैं। हमें पीओके पर बोलने का हक है, क्योंकि यह हमारा मामला है। बलूचिस्तान हमारा मामला नहीं है।

मोदी को दी थी नसीहत
सलमान खुर्शीद ने नसीहत के अंदाज में कहा था कि जब सवाल एक संप्रभु राष्ट्र का हो, तो हमें संयम बरतना चाहिए। उन्होंने पूछा था कि क्या हम अपने देश में हो रहे अत्याचारों पर अमेरिका को बोलने की मंजूरी देंगे? क्या हमने अफ्रीका और यूरोप के अलग-अलग देशों में हो रहे अत्याचारों पर चिंता जताई है?

पीएम ने किया था जिक्र
मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि बलूचिस्तान के लोगों ने अपने पक्ष में उठी भारत की आवाज के लिए भारत की सवा सौ करोड़ जनता को धन्यवाद दिया है। हम उनके इस बयान पर आभार जताते हैं।