संविधान दिवस पर मोदी: देश को दिया संदेश, चुनाव खर्च पर कही ये बात

प्रधानमन्त्री मोदी ने कहा कि संविधान की रक्षा में न्यायपालिका की काफी बड़ी भूमिका है। पीएम बोले कि 70 के दशक में इसे भंग करने की कोशिश की गई, लेकिन संविधान ने ही इसका जवाब दिया। इमरजेंसी के दौर के बाद सिस्टम मजबूत भी होता गया

pm modi

संविधान दिवस पर मोदी: देश को दिया संदेश, चुनाव खर्च पर कही ये बात-(courtesy-social media)

नई दिल्ली: आज संविधान दिवस है भारत में हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस या संवत् दिवस मनाया जाता है। इस दिन को राष्ट्रीय कानून दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। दरअसल, 1949 में इसी दिन भारत की संविधान सभा ने औपचारिक रूप से भारत के संविधान को अपनाया जो 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को संविधान दिवस के मौके पर केवड़िया में जारी एक कार्यक्रम को संबोधित किया। पीएम मोदी ने इस दौरान मुंबई हमले में शहीद हुए लोगों को श्रद्धांजलि दी और कहा कि हम वो जख्म कभी नहीं भूल सकते हैं।

मुंबई हमले को किया याद

संविधान दिवस पर अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोला था, इस हमले में कई लोगों की जान चली गई थी। पीएम मोदी ने कहा कि आज का भारत नई नीति-रीति के साथ आतंकवाद का सामना कर रहा है।

Constitution Day-1

संविधान की रक्षा में न्यायपालिका की बड़ी भूमिका-मोदी

प्रधानमन्त्री मोदी ने कहा कि संविधान की रक्षा में न्यायपालिका की काफी बड़ी भूमिका है। पीएम बोले कि 70 के दशक में इसे भंग करने की कोशिश की गई, लेकिन संविधान ने ही इसका जवाब दिया। इमरजेंसी के दौर के बाद सिस्टम मजबूत भी होता गया, उससे हमें काफी कुछ सीखने को मिला है।

ये भी देखें:  भारतीय संविधान के 70 साल पूरे, आज ही मिली थी लोगों को अलग पहचान

हर नागरिक को संविधान को समझना चाहिए-मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हर नागरिक को संविधान को समझना चाहिए और उसके हिसाब से चलना चाहिए। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना काल में देश के लोगों ने संविधान पर विश्वास होने के नाते समर्थन किया है। संसद में इस बार तय वक्त से काफी अधिक काम हुआ है, सांसदों ने अपनी सैलरी में कटौती की है। पीएम बोले कि कोरोना काल में भी देश ने चुनाव किया, नियमों के अनुसार सरकार भी बन गई जो संविधान की ही ताकत है।

संविधान दिवस देश का लोकतंत्र पर्व

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज देश संविधान दिवस मना रहा है और लोकतंत्र के पर्व के जश्न में डूबा है। पीएम मोदी ने कहा कि हर किसी को राष्ट्रहित को ध्यान रखते हुए काम करना चाहिए। अगर ऐसे मुद्दों पर राजनीति होती है तो उसका नुकसान उठाना पड़ता है। पीएम ने कहा कि सरदार सरोवर डैम भी इस राजनीति का शिकार होता रहा है। जब पानी का काम हुआ तो राजस्थान से भैरो सिंह-जसवंत सिंह उनसे मिलने गुजरात गए और बधाई दी।

Constitution Day-b r ambedkar

ये भी देखें:  भ्रष्टाचार का गढ़ भारत: यहां पर ऐसे होती है घूसखोरी, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

सरदार पटेल कभी जनसंघ के सदस्य नहीं रहे-मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि जिन लोगों के कारण डैम का काम बरसों तक रुका रहा, उसकी लागत करोड़ों रुपये बढ़ गई। उनके चेहरे पर आज कोई भी शिकन नहीं है और ना ही कोई पछतावा है। सरदार पटेल कभी जनसंघ या भाजपा के सदस्य नहीं थे, लेकिन वहां कोई राजनीतिक छुआछूत नहीं है और आज स्टैच्यू खड़ा है। इसका फायदा आसपास के शहर को मिला है, लोगों को रोजगार मिला है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App