×

सीपीएम विधायक ने महिला IAS अधिकारी को कहे अपशब्द, पार्टी मांगेगी जवाब

सीपीएम विधायक एस राजेंद्रन ने पर्यटक स्थल मुन्नार में आवैध निर्माण पर सवाल उठाने वाली आईएएस अधिकारी से कहा, आपके साथ आईएएस जैसे तीन अक्षर जुड़ जाने से जरूरी नहीं की आपको सब कुछ मालूम हो। उन्होंने कहा कि जो लोग सिर्फ कलैक्टर बनने के लिए पढ़ते हैं उनके पास ही दिमाग है क्या?

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 Feb 2019 5:55 AM GMT

सीपीएम विधायक ने महिला IAS अधिकारी को कहे अपशब्द, पार्टी मांगेगी जवाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

तिरुवनंतपुरम: सीपीएम विधायक एस राजेंद्रन ने पर्यटक स्थल मुन्नार में आवैध निर्माण पर सवाल उठाने वाली आईएएस अधिकारी से कहा, आपके साथ आईएएस जैसे तीन अक्षर जुड़ जाने से जरूरी नहीं की आपको सब कुछ मालूम हो। उन्होंने कहा कि जो लोग सिर्फ कलैक्टर बनने के लिए पढ़ते हैं उनके पास ही दिमाग है क्या?

ये भी देखें : त्रिपुरा : PM के कार्यक्रम में मंत्री ने महिला मंत्री को गलत ढंग से छूआ !

अब जानिए पूरा मामला

मिली जानकारी के मुताबिक विधायक राजेंद्रन और उनके समर्थकों ने नोटिस देने पहुंचे रेवेन्यू अफसरों की टीम को रोक दिया था। मामले की जानकारी मिलने पर रेनू वहां पहुंची तो गुस्साए राजेंद्रन ने रेनू से कहा, इनके पास दिमाग नहीं है, अगर आपके पास तीन अक्षर I-A-S तो आपको लगता है कि आप सब जानती हैं। जो लोग सिर्फ कलैक्टर बनने के लिए पढ़ते हैं उनके पास ही दिमाग है क्या?

ये भी देखें :पीएम मोदी का मिड-डे-मील आज वृंदावन में, परोसेंगे भी और खाएंगे भी

रेनू कोर्ट को देंगी अवैध निर्माण की जानकारी

रेनू अब मामले की जानकारी केरल हाईकोर्ट को देंगी।

क्या कहा सीपीआई(एम) ने

सूबे की सत्ता पर काबिज सीपीआई(एम) का कहना है कि राजेंद्रन की इस हरकत के लिए पार्टी उनसे जवाब मांगेगी। जबकि एस राजेंद्रन अपनी बात से मुकर गए हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story