Delhi MCD Election: भाजपा सांसदों के क्षेत्र में BJP का कैसा रहा प्रदर्शन, मीनाक्षी लेखी के इलाके में मिली सबसे बड़ी हार

Delhi MCD Election: दिल्ली नगर निगम के चुनाव नतीजों में भाजपा 104 सीटों पर ही सिमट गई है। ऐसे में यह जानना दिलचस्प है कि भाजपा सांसदों के इलाकों में भाजपा का प्रदर्शन कैसा रहा।

Delhi MCD Election: भाजपा सांसदों के क्षेत्र में BJP का कैसा रहा प्रदर्शन, मीनाक्षी लेखी के इलाके में मिली सबसे बड़ी हार
BJP (Image: Social Media)
Follow us on

Delhi MCD Result 2022: दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के चुनाव नतीजों में आम आदमी पार्टी ने अपनी ताकत दिखाते हुए बहुमत हासिल कर लिया है। आप को 134 सीटों पर जीत हासिल हुई है जबकि पिछले 15 वर्षों से एमसीडी पर काबिज भाजपा 104 सीटों पर ही सिमट गई है। दिल्ली में लोकसभा की 7 सीटें हैं और 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को इन सभी सीटों पर कामयाबी मिली थी। दिल्ली में भाजपा के 7 बड़े चेहरों के बावजूद आम आदमी पार्टी ने एमसीडी चुनाव में जीत हासिल करते हुए भाजपा को बैकफुट पर धकेल दिया है। ऐसे में यह जानना दिलचस्प है कि भाजपा सांसदों के इलाकों में भाजपा का प्रदर्शन कैसा रहा।

मीनाक्षी के इलाके में सबसे बड़ी हार

भाजपा का सबसे खराब प्रदर्शन नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से सांसद मीनाक्षी लेखी के इलाके में रहा है। नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत 25 वार्ड आते हैं। इनमें से 20 वार्डों में जीत हासिल करके आप ने भाजपा को बुरी तरह हराया है। भाजपा को सिर्फ 5 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

बिधूड़ी के क्षेत्र में भी पिछड़ी भाजपा

दक्षिण दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से पिछले चुनाव में रमेश बिधूड़ी को जीत हासिल हुई थी। बिधूड़ी के लोकसभा क्षेत्र में भाजपा की हालत काफी पतली दिखी। दक्षिण दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में 37 वार्ड हैं और इनमें से 23 में आम आदमी पार्टी के प्रत्याशियों को जीत हासिल हुई है। इस लोकसभा क्षेत्र में भाजपा काफी पिछड़ गई है और उसे सिर्फ 13 सीटों पर जीत हासिल हुई है जबकि एक सीट पर कांग्रेस ने जीत का परचम फहराया है।

गंभीर के इलाके में भाजपा रही आगे

ईस्ट दिल्ली चुनाव क्षेत्र से मशहूर क्रिकेटर गौतम गंभीर भाजपा सांसद हैं। गौतम गंभीर के इलाके में भाजपा बेहतर प्रदर्शन करने में कामयाब रही है और उसने आप को बैकफुट पर धकेल दिया है। इस इलाके के 36 वार्डों में से 22 वार्डों में कमल खिला है। आम आदमी पार्टी इस लोकसभा क्षेत्र में काफी पिछड़ गई है और उसे सिर्फ 11 सीटों पर जीत हासिल हुई है। कांग्रेस प्रत्याशियों को 3 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

मनोज तिवारी के इलाके में कांटे का मुकाबला

प्रसिद्ध भोजपुरी गायक और दिल्ली प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी पिछले चुनाव में नार्थ ईस्ट दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से सांसद चुने गए थे। इस लोकसभा क्षेत्र के 41 वार्डों में भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच कड़ा मुकाबला हुआ है। भाजपा को 18 वार्डों में जीत हासिल हुई है जबकि आप ने 17 वार्डों में जीत हासिल करके भाजपा को कड़ी चुनौती दी है। इस इलाके में कांग्रेस को 4 सीटों पर कामयाबी मिली है जबकि 2 सीटें अन्य के खाते में गई हैं।

हर्षवर्धन के क्षेत्र में भाजपा वही आगे

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद डॉ हर्षवर्धन के इलाके चांदनी चौक में भाजपा का प्रदर्शन आप से बेहतर रहा है। चांदनी चौक इलाके में 30 वार्डों में में से 16 वार्डों में भाजपा ने जीत हासिल की है जबकि 14 वार्डों में आम आदमी पार्टी को जीत मिली है।

प्रवेश वर्मा के इलाके में आप ने पछाड़ा

वेस्ट दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से प्रवेश वर्मा भाजपा सांसद चुने गए थे। उनके चुनाव क्षेत्र में भी भाजपा आप से काफी पिछड़ गई है। वेस्ट दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत 38 वार्ड आते हैं। इनमें से 24 वार्डों में आम आदमी पार्टी प्रत्याशियों को जीत मिली है जबकि भाजपा को सिर्फ 14 सीटों से संतोष करना पड़ा है।

हंसराज हंस के क्षेत्र में भाजपा रही पीछे

नार्थ वेस्ट दिल्ली लोकसभा क्षेत्र काफी बड़ा है और इस लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत 43 वार्ड हैं। इस लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के टिकट पर हंसराज हंस को जीत हासिल हुई थी। इस लोकसभा क्षेत्र में भी आप भाजपा से आगे निकल गई है। आम आदमी पार्टी ने इस लोकसभा क्षेत्र में 26 सीटों पर जीत हासिल की है जबकि भाजपा 14 सीटों पर सिमट गई है।

दिल्ली प्रदेश भाजपा के मुखिया आदेश गुप्ता के इलाके पटेल नगर में भी भाजपा को बुरी तरह हार मिली है। पटेल नगर इलाके में 4 वार्ड आते हैं और इन चारों सीटों पर आम आदमी पार्टी को जीत हासिल हुई है।