ISI की बड़ी साजिश का भंडाफोड़, RSS नेताओं की हत्या की तैयारी कर रहे 3 गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (एनडीआर) और इंटेलिजेंस एजेंसी ने 26 जनवरी से पहले ISI एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। देश की राजधानी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों से 3 शार्प शूटर्स को गिरफ्तार किया गया है। इन शूटर्स का निशाना गणतंत्र दिवस से पहले देश के दो बड़े नेताओं की हत्या कर देश में दहशत फैलाने की थी।

यूपी ATS ने पकड़ा 11 ISI एजेंट को, पाक से कंट्रोल किया जा रहा था पूरा नेटवर्क

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (एनडीआर) और इंटेलिजेंस एजेंसी ने 26 जनवरी से पहले ISI एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। देश की राजधानी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों से 3 शार्प शूटर्स को गिरफ्तार किया गया है। इन शूटर्स का निशाना गणतंत्र दिवस से पहले देश के दो बड़े नेताओं की हत्या कर देश में दहशत फैलाने की थी। गिरफ्तार हुए लोगों में ट्रेनिंग ले चुका अफगान नागरिक भी शामिल है।

यह भी पढ़ें…..सबरीमाला मंदिर: ‘सुप्रीम’ आदेश के बाद 51 महिलाओं ने किया प्रवेश, अब सुरक्षा के निर्देश

दाऊद इब्राहिम की भी साजिश

इन तीनों में अफगानिस्तान का रहने वाला वली मोहम्मद भी शामिल है। जबकि बाकी दोनों भारतीय हैं जिनमें सोनू उर्फ तहसीम केरल का रहने वाला है, जबकि रियाजुद्दीन दिल्ली का निवासी है। सूत्रों का कहना है कि इनमें से एक आरोपी अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के करीबी गुलाम रसूल पट्टी का आदमी है।

यह भी पढ़ें…..कोलकाता में ममता की मेगा रैली, विपक्ष का सबसे बड़ा जमावड़ा

संघ के कई नेता थे निशाने पर

दिल्ली पुलिस के मुताबिक कर्नाटक के मैंगलोर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के नेताओं की हत्या की साजिश रची थी। इन आरोपियों से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि दक्षिण भारत में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कई नेता इनके निशाने पर थे जिनकी हत्या का प्लान बनाया जा रहा था। इस साजिश में सिर्फ पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ही नहीं बल्कि दाऊद इब्राहिम गैंग का भी हाथ बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें…..21 जनवरी को चंद्रग्रहण ,इस दिन दिखेगा आसमान में सुपर ब्लड वोल्फ मून का अद्भुत नजारा

कॉल को इंटरसेप्ट करने के बाद मिली जानकारी

इस षड्यंत्र की जानकारी खुफिया एजेंसियों को तब मिली जब रसूल पार्टी और दक्षिण भारत के एक व्यक्ति के बीच हुए एक कॉल को इंटरसेप्ट किया गया। ये लोग हथियारों के इंतजाम और दो ‘हाई वेल्यू’ टारगेट की बात कर रहे थे। सूत्रों ने बताया कि इस सारे ऐक्शन को मिड-दिसंबर से ट्रैक किया जा रहा था और जैसे ही यह पुष्टि हो गई कि अब प्लान आखिरी चरण में है तो पुलिस ने कार्रवाई कर इन शूटर्स को गिरफ्तार कर लिया।