JNU स्काॅलर के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की FIR, सेना पर की थी ऐसी टिप्पणी

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र साजिद बिन सईद पर दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज किया है। साजिद बिन सईद जेएनयू में पढ़ता है और उसने भारतीय सेना और आरएसएस पर ट्विटर पर टिप्पणी की थी। सईद ने अपनी पोस्ट पर लिखा है कि “भारतीय सेना कश्मीरी आवाम के नरसंहार को अंजाम देती है

Published by suman Published: July 25, 2020 | 8:27 pm
Modified: July 25, 2020 | 8:28 pm

नई दिल्लीः  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र साजिद बिन सईद पर दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज किया है। साजिद बिन सईद जेएनयू में पढ़ता है और उसने भारतीय सेना और आरएसएस पर ट्विटर पर टिप्पणी की थी। सईद ने अपनी पोस्ट पर लिखा है कि “भारतीय सेना कश्मीरी आवाम के नरसंहार को अंजाम देती है जोकि आरएसएस द्वारा तैयार किये जाते हैं। भाजपा सरकार को अपने क्षेत्र के लालच को रोकना चाहिए और संयुक्त राष्ट्र द्वारा गारंटीकृत स्व-निर्णय के लिए कश्मीरी आवाम को स्वीकार करने के लिए तैयार होना चाहिए“। सईद ने ये भी लिखा है कि अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं द्वारा इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए। दिल्ली पुलिस ने साजिद बिन सईद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। साजिद कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया का अध्यक्ष है।

यह पढ़ें…पत्थरों से आती है डमरू की आवाज, ये है एशिया का सबसे बड़ा शिव मंदिर

 

जेएनयू के पीएचडी शोधकर्ता शरजीत इमाम के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि अधिनियम के अन्तर्गत आरोप-पत्र दाखिल किया गया है। दिसम्बर, 2019 में जामिया मिलिया इस्लामिय के बाहर हुई हिंसा और फरवरी, 2020 के दिल्ली दंगों के आरोपी शरजील इमाम को हाल ही में केरोना पॉजिटिव पाया गया था। इमाम पर असम, यूपी और दिल्ली सहित पांच राज्यों द्वारा राजद्रोह, दंगे और सांप्रदायिक सद्भावना को बिगाड़ने के अंतगर्त मामले दर्ज किये गये हैं।

  

यह पढ़ें..इस चाइनीज़ स्मार्टफोन कंपनी ने की बड़ी गलती, ग्राहकों का पर्सनल डेटा लीक

 

इमाम के खिलाफ चार्जशीट दाखिल
दिल्ली पुलिस ने जेएनयू पीएचडी स्कॉलर शरजील इमाम के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत आरोप पत्र (चार्जशीट) दायर किया है। बता दें कि पिछले साल दिसंबर में जामिया मिलिया इस्लामिया के बाहर हुई हिंसा और इस फरवरी के दिल्ली दंगों में आरोपी है, हाल ही में वह कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इमाम पर दिल्ली, असम और उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों द्वारा राजद्रोह, दंगे और सांप्रदायिक सद्भावना को बिगाड़ने के लिए मामला दर्ज किया गया है। दिल्ली पुलिस के अनुसार, शरजील ने पिछले साल दिसंबर में जामिया परिसर के बाहर एक भड़काऊ भाषण दिया था।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App