नोटबंदी का 10वां दिनः अब पेट्रोल पंपों से मिलेगा कैश, UP में हालात बेहतर नहीं

Published by Published: November 18, 2016 | 12:24 am
Modified: November 18, 2016 | 12:47 pm
नोटबंदी

नई दिल्ली/लखनऊः नोटबंदी के बाद देशभर में बैंकों और एटीएम के बाहर लग रही लंबी लाइनों को देखते हुए सरकार ने एक और फैसला किया है। देशभर में कुछ चुनिंदा पेट्रोल पंपों में डेबिट कार्ड के जरिए भी लोग हर रोज 2000 रुपए तक निकाल सकेंगे। इन पेट्रोल पंपों पर एसबीआई ने स्वाइप मशीनें लगाई हैं। आगे चलकर 20 हजार पेट्रोल पंपों में ये सुविधा मिलेगी।

यूपी में क्या हैं हाल?
इस बीच, यूपी के ज्यादातर जिलों में नोटबंदी के बाद से नकदी का संकट बना हुआ है। एटीएम पर लंबी कतारें गुरुवार को भी देखी गईं। बैंकों के सामने भी हाल कुछ ऐसा ही रहा। कई जगह कैश खत्म होने से बैंक पहुंचे लोगों को मायूस लौटना पड़ा। देवरिया के सलेमपुर में यूनियन बैंक के ब्रांच मैनेजर सुनील कुमार से लोगों ने रकम दिलाने को कहा। उन्होंने कैश न होने की बात कही तो लोग भड़क गए और पीटने लगे। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को पकड़ा है।

यह भी पढ़ें…वित्त मंत्री का ऐलान: राहत को तैयार 22,500 एटीएम, नहीं आएगा 1000 का नया नोट

अगले हफ्ते से काम करेंगे एटीएम
उम्मीद जताई जा रही है कि अगले हफ्ते से यूपी के ज्यादातर एटीएम पूरी क्षमता से काम करने लगेंगे। इन एटीएम को री-कैलिब्रेट किया जा रहा है। फिर से कैलिब्रेट होने के बाद हर एटीएम से 2000, 500 और 100 रुपए के नोट निकलेंगे। सूत्रों के मुताबिक रिजर्व बैंक ने एसबीआई समेत ज्यादा ब्रांचों वाले बैंकों को तीन दिन में अपने एटीएम पूरी तरह चलाने को कहा है। बताया जा रहा है कि एसबीआई सबसे तेज रफ्तार से एटीएम री-कैलिब्रेट करवा रहा है। ऐसे में नोटबंदी के बाद के हालात सुधरने की उम्मीद है।

पीएनबी और बैंक ऑफ बड़ौदा की टीमें भी लगीं
इस बीच, खबर ये भी है कि पीएनबी और बैंक ऑफ बड़ौदा ने एटीएम कैलिब्रेशन के लिए अपनी 10-10 टीमें लगाई हैं। एटीएम कैलिब्रेट होने से उनमें 27 लाख 50 हजार रुपए रखे जा सकेंगे। इससे हर रोज एक हजार से ज्यादा लोगों को कैश मिल सकेगा। फिलहाल जो एटीएम चल रहे हैं, उनसे 300 से 400 लोगों को ही कैश मिल पा रहा है। वजह ये है कि कैलिब्रेशन न होने की वजह से सिर्फ 100 रुपए के नोट ही एटीएम में रखे जा रहे हैं।