भयानक किसान आंदोलन: फेंके जा रहे आँसू गोले और पानी, हिल उठी पूरी सरकार

पंजाब के किसानों का प्रदर्शन एक बार फिर से शुरु हो गया है। ऐसे में दिल्ली से पहले हरियाणा के किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन करना पड़ रहा है। एक तरफ किसान जहां दिल्ली प्रवेश की जिद पर लगे हुए हैं, तो वहीं दूसरी तरफ प्रशासन उन्हें रोकने की जबरदस्त कोशिशें कर रहा है।

kisan protest

फोटो-सोशल मीडिया

नई दिल्ली: कृषि कानून के खिलाफ पंजाब के किसानों का प्रदर्शन एक बार फिर से शुरु हो गया है। ऐसे में दिल्ली से पहले हरियाणा के किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन करना पड़ रहा है। एक तरफ किसान जहां दिल्ली प्रवेश की जिद पर लगे हुए हैं, तो वहीं दूसरी तरफ प्रशासन उन्हें रोकने की जबरदस्त कोशिशें कर रहा है। लेकिन अब इन सबके चलते हरियाणा के सभी प्रमुख मार्गों पर भयंकर जाम लगा हुआ है। लोगों को आने-जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

ये भी पढ़ें… कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का ऐलान, 26 नवंबर से दिल्ली में करेंगे बड़ा प्रदर्शन

पंजाब के किसान भारी तादात में

Agricultural bill
फोटो-सोशल मीडिया

ऐसे में हरियाणा के फतेहाबाद के टोहाना में किसानों और उनके प्रदर्शन को रोकने के लिए प्रशासन ने जेसीबी से रोड को गहरा खोदना शुरू कर दिया है। असल में बात ये है कि टोहाना क्षेत्र में पंजाब के किसान भारी तादात में जुट गए हैं। और ये सभी किसान दिल्ली जाने के लिए अड़े हुए हैं। पर फिलहाल प्रशासन उन्हें रोकने के लिए अब सड़क खोदना शुरू कर दिया है।

साथ ही फतेहाबाद में भारी पुलिस बल पंजाब सीमा पर तैनात है। स्थितियों पर काबू पाने के लिए किसी को आने-जाने नहीं दिया जा रहा है। जिसके चलते गुजरात, राजस्थान व अन्य राज्योंं से पंजाब के जीरकपुर और चंडीगढ़ जाने वाली लगभग 200 गाड़ियांं टोहाना में फंस गई हैं, क्योंकि चंडीगढ़ रोड पर किसानों ने धरना दिया हुआ है।

Agricultural bill
फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें…किसानों का दिल्ली कूच, भीड़ को रोकने के पुलिस ने जगह-जगह छोड़े आंसू गैस के गोले

भीषण जाम में फंसे लोग

इसके अलावा पानीपत में किसान आंदोलन की वजह से भारी जाम की स्थिति बनी हुई है। जीटी रोड पर बाबरपुर से लेकर रिफाइनरी तक लगा लंबा जाम लगा है। भीषण जाम में फंसे लोग पैदल ही निकल रहे हैं। जिसके चलते यहां से प्रशासन ने रूट भी बदला है। दिल्ली से आने-वाले लोगों को रिफाइनरी के पास से डायवर्ट किया जा रहा है।

दूसरी तरफ करनाल में भी जीटी रोड पर पुलिस का भारी जमावड़ा है। रोड पर ही बड़ी संख्या में पुलिसवाले बैठे हैं। यहां पर भी जाम स्थिति बनी हुई है। वहीं हजारों की संख्या में किसान जिले में जुटे हुए हैं।

ये भी पढ़ें…किसानों के ‘दिल्ली चलो’ आंदोलन के कारण दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर पुलिस सुरक्षा बढ़ाई गई

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App