×

हिजबुल के आतंकियों के साथ DSP भी गिरफ्तार, NIA के शिकंजे में देश के गुनहगार

हिजबुल कमांडर नवीद बाबा के साथ गिरफ्तार डीएसपी दविंदर सिंह के मामले में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने आज यानी कि सोमवार सुबह त्राल इलाके में दविंदर सिंह के निवास पर छापा मारा है। इसके साथ ही एनआईए दो अन्य स्थानों पर भी छापेमारी कर रही है।

suman

sumanBy suman

Published on 3 Feb 2020 2:38 PM GMT

हिजबुल के आतंकियों के साथ  DSP भी गिरफ्तार, NIA के शिकंजे में देश के गुनहगार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

श्रीनगर: राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने आज यानी कि सोमवार सुबह त्राल इलाके में दविंदर सिंह के निवास पर छापा मारा है। हिजबुल कमांडर नवीद बाबा के साथ गिरफ्तार डीएसपी दविंदर सिंह के मामले में एनआईए दो अन्य स्थानों पर भी छापेमारी कर रही है। जिसमें शोपियां में आतंकियों के मददगार फारूक अहमद का ठिकाना शामिल है। इससे पहले रविवार को इस मामले में ही एनआईए ने घाटी में पांच स्थानों पर छापे मारे थे। जिसमें कई आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद हुए। बरामद दस्तावेज की जांच की जा रही है।

यह पढ़ें...चुनाव से पहले कांग्रेस ने मानी हार, कही ये चौकाने वाली बात

DSP पर बड़ी खबर: आतंकी कनेक्शन के बाद छापेमारी में आर्मी बेस का मैप बरामद

11 जनवरी को डीएसपी को नवीद बाबा को घाटी से बाहर ले जाते समय दो अन्य आतंकियों रफी अहमद राथर व इरफान शफी मीर के साथ काजीगुंड के पास गिरफ्तार किया गया था। रफी और इरफान खुद के वकील होने का दावा कर रहे थे।

पकड़े गए आतंकियों व डीएसपी से पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर छापामारी के लिए कई टीमें बनाई गईं हैं। रविवार सुबह इन टीमों ने कुलगाम और शोपियां में एक साथ छापा मारा। गिरफ्तार आतंकी रफी अहमद राथर के जैनापोरा में घर पर तलाशी ली गई।

टीम ने लश्कर आतंकी आदिल हुसैन व सरपंच तारिक अहमद मीर के घर के साथ ही मलडेरा में कुछ ओजीडब्ल्यू के घर भी खंगाले। सूत्रों ने बताया कि एनआईए टीम ने शोपियां जिले के मानिहाल, बटपोरा, मलडेरा, नाजनीनपोरा-गनपोरा व दाहरू गांव में छापा डाला।

यह पढ़ें...राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने ऐसे किया एन0सी0सी0 कैडेटों का सम्मान

एनआईए की 20 सदस्यीय एक अन्य टीम शनिवार को श्रीनगर पहुंची थी। इससे पहले एनआईए के डीजी ने भी जम्मू पहुंचकर जांच की प्रगति की जानकारी हासिल की थी। उन्होंने उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू से मुलाकात करने के बाद उन्हें जांच और पूछताछ में मिली जानकारी के बारे में भी बताया था।

नवीद बाबा के भाई सैयद इरफान अहमद को 23 जनवरी को पंजाब से लाकर गिरफ्तार किया गया था। नवीद लगातार अपने भाई के संपर्क में था। उसने कश्मीर की ठंड से बचने के लिए चंडीगढ़ में रहने की जगह तलाशने को कहा था। वाहन चला रहे इरफान शफी मीर की गिरफ्तारी एनआईए के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि ऐसा आरोप है कि वह पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं के इशारे पर काम कर रहा है। वह भारतीय पासपोर्ट पर पड़ोसी देश पांच बार जा चुका है।

suman

suman

Next Story