×

कोरोना वायरस: केरल राज्य आपदा घोषित तो वहीं कटक में मिले 8 संक्रमित लोग

केरल में नोवेल कोरोना वायरस के तीसरे मरीज का पता लगा है। जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने इसे राज्य आपदा घोषित कर दिया है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 4 Feb 2020 3:44 AM GMT

कोरोना वायरस: केरल राज्य आपदा घोषित तो वहीं कटक में मिले 8 संक्रमित लोग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: केरल में नोवेल कोरोना वायरस के तीसरे मरीज का पता लगा है। जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने इसे राज्य आपदा घोषित कर दिया है। वहीं, ओडिशा के कटक में आठ लोगों को भर्ती किया गया जिनमें कोरोना वायरस के पॉजिटिव होने का अंदाजा लगाया जा रहा है।

केरल सरकार की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए ये फैसला लिया है। इसके साथ ही सभी जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पीड़ित छात्र वुहान में पढ़ाई कर रहा था। इसके साथ ही करीब दो हफ्ते पहले चीन से लौटे दो लोगों को केरल के कोट्टयम के सरकारी अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

ये भी पढ़ें:क्या है’वर्क फ्रॉम होम’, तेजी से बढ़ रहा है इसका क्रेज, जानिए इसके फायदे व नुकसान

ओडिशा के कटक में आठ लोगों को भर्ती किया गया

ओडिशा के कटक में आठ लोगों को भर्ती किया गया, जिनमें कोरोना वायरस के पॉजिटिव होने का अंदाजा लगाया जा रहा है। इनमें से पांच की रिपोर्ट निगेटिव आई है। एक मेडिकल छात्र को एससीबी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। एक महिला और उसका पति चीन में पढ़ रहे। महिला के पति का भी परीक्षण किया जा रहा है।

चीन जाने से बचने की एडवाइजरी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारतीय नागरिकों को चीन जाने से बचने की एडवाइजरी जारी की है। सरकार ने कहा है कि जो भी व्यक्ति 15 जनवरी 2020 से चीन गया है, उसके साथ यात्रा करने से भी बचा जाए। केंद्र सरकार ने कहा है कि चीनी नागरिकों के लिए फिलहाल ई-वीजा सुविधा रोक दी गई है। इसके अलावा हले से जारी ई वीजा और आवेदनों को भी निलंबित कर दिया गया है।

कोरोना वायरस को लेकर मंत्रियों के समूह की बैठक

कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए तैयारियों की समीक्षा, निगरानी और मूल्यांकन करने के लिए गठित मंत्रियों के समूह ने सोमवार को अपनी पहली बैठक की। इस बैठक में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, हरदीप पुरी, एस जयशंकर, जी किशन रेड्डी, अश्विनी कुमार चौबे और मनसुख लाल मंडाविया मौजूद हुए।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस बैठक में केरल से रिपोर्ट किए गए तीन पुष्ट मामलों और निवारक कदमों और उपायों से मंत्रियों को अवगत कराया गया। भारत सरकार ने पड़ोसी देश में रहने वाले चीनी यात्रियों और विदेशियों के लिए ई-वीजा सुविधा के अस्थायी निलंबन की घोषणा करते हुए सलाह दी कि 15 जनवरी के बाद से चीन जाने वाले किसी भी व्यक्ति की जांच की जाए।

ये भी पढ़ें:CAG रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, सियाचिन में सैनिकों को जरूरत मुताबिक नहीं मिल रहा खाना-कपड़े

केंद्र ने बनाया टास्क फोर्स

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस पर देख-रेख के लिए एक टॉस्क फोर्स बनाया है। केंद्रीय राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बताया कि यह टॉस्क फोर्स यह तय करेगा कि इस वायरस को रोकने लिए क्या उपाय अपनाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि चीन में रहने वाले ऐसे भारतीय, जो वापस आने के इच्छुक हैं, उन्हें वहां से निकाला जाएगा।

उन्होंने कहा कि जो भी भारत आना चाहते हैं, उन्हें दूतावास से संपर्क करना चाहिए। स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी अपनी यात्रा सलाह को नवीनतम करते हुए कहा है कि लोगों को चीन जाने से बचना चाहिए और वहां से वापस आ रहे लोगों को ऐहतियात के चलते अलग रखा जाना मुनासिब होगा।

हनीमून चीन में मनाना पड़ा महंगा, कोरोना वायरस की आशंका

चीन में हनीमून मनाने गए युवा दंपती को भारी पड़ गया है। पति पत्नी 28 जनवरी को भारत वापस आए थे और उन्हें खांसी जुकाम की शिकायत के बाद सावधानी बरतते हुए यहां अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि वो कोरोना वायरस से पीड़ित हो सकते हैं इसलिए उन्हें एक अलग वार्ड में रखा गया है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी केके सोनी ने बताया कि उनके नमूनों को जयपुर भेजा गया है और एक अन्य टीम को उनके परिवार के दूसरे लोगों की जांच के लिए भेजा जाएगा।

ये भी पढ़ें:बीजेपी राज में गरीबी हटाओ की जगह गरीब को हटाओ: अखिलेश

कोलकाता में जांच की सुविधा

पश्चिम बंगाल सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर दो थर्मल स्कैनर मुहैया कराए हैं जिस वजह से वायरस से पीड़ित लोगों की पहचान आसान हो सके। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कोलकाता पोर्ट प्रशासन ने इनका प्रयोग करना शुरू कर दिया है।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story