×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Delhi Liquor Scam: कैलाश गहलोत पहुंचे ईडी ऑफिस, पूछताछ जारी, आज ही मिला समन

Delhi Liquor Scam: ईडी का कहना है कि कैलाश गहलोत उस ग्रुप का हिस्सा थे, जिन्होंने इस शराब नीति के मसौदे को तैयार किया था। उन्होंने ये मसौदा साउथ के ग्रुप को लीक किया गया था। ईडी इस मामले में कई आप के बड़े नेताओं को गिरफ्तार कर चुकी है।

Viren Singh
Published on: 30 March 2024 7:04 AM GMT (Updated on: 30 March 2024 7:19 AM GMT)
Delhi Liquor Scam
X

Delhi Liquor Scam (सोशल मीडिया) 

Delhi Liquor Scam: आबकारी घोटाले के मामले में दिल्ली सरकार एक और मंत्री की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को समन भेजा है। ईडी ने शराब घोटाले में कैलाश गहलोत को पूछताछ के लिए शनिवार को अपने ऑफिस में बुलाया है। गहलोत समन मिलने के बाद ईडी ऑफिस पहुंच गए हैं। उनसे ईडी पूछताछ कर रही हैं। अब तक ईडी आबकारी घोटाले के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के कई बड़े नेताओं को न्यायिक हिरासत में ले चुकी है, जबकि पार्टी के मुखिया केजरीवाल ईडी की रिमांड में हैं।

ईडी ने लगाए गहतोल पर आरोप

इस मामले पर ईडी का कहना है कि कैलाश गहलोत उस ग्रुप का हिस्सा थे, जिन्होंने इस शराब नीति के मसौदे को तैयार किया था। उन्होंने ये मसौदा साउथ के ग्रुप को लीक किया गया था। इतना ही नहीं ईडी ने कैलाश गहलोत पर साउथ के शराब कारोबारी विजय नायर को अपना सरकारी आवास देने का आरोप लगाया है। ईडी पहले भी कह चुकी है कि इस पूरे मामले की अवधि के दौरान दिल्ली के मंत्री कैलाश गहलोत ने अपना मोबाइल नंबर कई बार बदल चुके हैं।

बयान दर्ज के लिए बुलाया गया

हालांकि इस पूरे मामले में अभी तक आम आदमी पार्टी की ओर से कोई आधिकारिक बयान समाने नहीं आया है। कैलाश गहलोत दिल्ली सरकार में परिवहन मंत्री हैं और उन्हें केजरीवाल का बेहद करीबी माना जाता है। सूत्रों ने बताया कि गहलोत को मामले में पूछताछ के लिए उपस्थित होने और धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत अपना बयान दर्ज कराने के लिए कहा गया है।

जानिए क्या है शराब मामला?

मामला 2021-22 के लिए दिल्ली सरकार की उत्पाद शुल्क नीति को तैयार करने और क्रियान्वित करने में कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग से संबंधित है। बाद में दिल्ली सरकार ने नई शराब नीति को रद्द कर दिया था और पुरानी शराब नीति लागू कर दी थी। इस घोटाले मामले में आप नेता एवं दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया और राज्यसभा सांसद संजय सिंह को ईडी ने पहले गिरफ्तार किया था और वे न्यायिक हिरासत में हैं। इसके अलावा इस मामले में सीएम केजरीवाल ईडी की रिमांड में है।

केजरीवाल 1 अप्रैल तक रिमांड में

अरविंद केजरीवाल को कथित उत्पाद शुल्क नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 21 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। दिल्ली की राऊज एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली के सीएम की ईडी हिरासत चार दिन यानी 1 अप्रैल तक बढ़ा दी है। जांच एजेंसी ने आप प्रमुख की सात दिन की हिरासत मांगी थी, लेकिन अदालत के विशेष न्यायाधीश कावेरी बावेजा ने कहा कि उन्हें 1 अप्रैल को सुबह 11 बजे अदालत के सामने पेश करना होगा।

आतिशी बोलीं- भाजपा मांग रही पासवर्ड

दिल्ली की मंत्री आतिशी ने शुक्रवार को कहा कि ईडी ने अनजाने में अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने के अपने मकसद का खुलासा कर दिया। जब एजेंसी के वकील ने रिमांड सुनवाई के दौरान दिल्ली के सीएम के फोन पासवर्ड तक पहुंचने की आवश्यकता का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि ईडी नहीं बल्कि भाजपा पासवर्ड मांग रही है। इसके अतिरिक्त, उन्होंने आरोप लगाया कि जांच टीम को आप की लोकसभा चुनाव रणनीति के बारे में जानकारी इकट्ठा करने के लिए केजरीवाल के फोन तक पहुंच की आवश्यकता है।

Viren Singh

Viren Singh

पत्रकारिता क्षेत्र में काम करते हुए 4 साल से अधिक समय हो गया है। इस दौरान टीवी व एजेंसी की पत्रकारिता का अनुभव लेते हुए अब डिजिटल मीडिया में काम कर रहा हूँ। वैसे तो सुई से लेकर हवाई जहाज की खबरें लिख सकता हूं। लेकिन राजनीति, खेल और बिजनेस को कवर करना अच्छा लगता है। वर्तमान में Newstrack.com से जुड़ा हूं और यहां पर व्यापार जगत की खबरें कवर करता हूं। मैंने पत्रकारिता की पढ़ाई मध्य प्रदेश के माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्विविद्यालय से की है, यहां से मास्टर किया है।

Next Story