PNB घोटाला: कर्मचारी यूनियन ने कहा- RBI गवर्नर को देना चाहिए इस्तीफा

PNB मामले पर कर्मचारी यूनियन ने कहा- RBI गवर्नर को देना चाहिए इस्तीफा

चेन्नई: बैकिंग कर्मचारियों की एक प्रमुख यूनियन के शीर्ष नेतृत्व ने मांग की है, कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल को हीरा कारोबारी नीरव मोदी द्वारा किए गए कथित 1.8 अरब डॉलर के घोटाले/धोखाधड़ी के बाद नैतिक आधार पर अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

ऑल इंडिया बैंक इम्प्लाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) के महासचिव सी.एच. वेंकटचलम ने बताया, ‘इस धोखाधड़ी को लेकर आरबीआई गवर्नर की लगातार चुप्पी आश्चर्यजनक और चौंकाने वाली है। यह आरबीआई की गहरी भागीदारी पीएनबी के नोस्ट्रो खातों की जांच में आरबीआई की कोताही को दिखाता है।’

आरबीआई निगरानी रखने में विफल
वेंकटचलम के मुताबिक, ‘घोटाले का शिकार बनी पीएनबी की मुंबई स्थित ब्रैडी शाखा एक श्रेणी की विदेशी मुद्रा बैंक शाखा है और भारतीय रिजर्व बैंक इस पर निगरानी रखने में विफल रहा है। इसके परिणामस्वरूप बड़े पैमाने पर घोटाला हुआ है।’

पीएनबी निदेशक मंडल में आरबीआई के उम्मीदवार भी
वेंकटचलम ने कहा, ‘भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर को पूर्ण विफलता की नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए और इस्तीफा दे देना चाहिए।’ उनके अनुसार, ‘पीएनबी के निदेशक मंडल में भारतीय रिजर्व बैंक के उम्मीदवार भी हैं। इसके अलावा आरबीआई सभी बैंक शाखाओं में निरीक्षण करती है और इसलिए केंद्रीय बैंक जिम्मेदारी से नहीं बच सकती है।’

वेंकटचलम ने भारतीय रिजर्व बैंक के पुनर्गठन की भी मांग की, और कहा कि केंद्रीय बैंक पर शीघ्र सुधारात्मक कार्रवाई की जानी चाहिए।

आईएएनएस