क्या बिहार का हिंदू ‘दशमी’ मनाने पाकिस्तान और बांग्लादेश जाएगा

Published by Rishi Published: September 24, 2017 | 5:29 pm

पटना : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने रविवार को बिहार सरकार के उस आदेश पर सवाल उठाए, जिसमें दुर्गा प्रतिमाओं को 30 सितंबर तक विसर्जित करने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक कदमों के नाम पर हिंदुओं पर धार्मिक अनुष्ठान बदलने के लिए दबाव नहीं बनाया जा सकता है।

पटना में जिला प्रशासन ने सभी दुर्गा पूजा समितियों को निर्देश दिए हैं कि सुरक्षा कारणों से मूर्तियों को विजय दशमी के दिन विसर्जित कर दिया जाए, क्योंकि एक अक्टूबर को मोहर्रम का दसवां दिन होगा।

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्यमंत्री गिरिराज सिंह ने कहा, “क्या बिहार का हिंदू दशमी मनाने पाकिस्तान और बांग्लादेश जाएगा?”

हालांकि, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने पटना प्रशासन के आदेश का स्वागत किया है।

उन्होंने कहा, “यह कानून-व्यवस्था का मुद्दा है, जिस पर जिला प्रशासन सही कदम उठाया है। मैं सभी हिंदुओं और मुसलमानों से अपील करता हूं कि वे अपने त्योहारों का जश्न सांप्रदायिक सद्भाव के साथ मनाएं।”

जनता दल (युनाइटेड) के प्रवक्ता अरविंद निषाद ने कहा, “प्रशासन ने सही कदम उठाया है। यह सुरक्षा और कानून-व्यवस्था का हिस्सा है।”

पटना के जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल ने शनिवार को यह आदेश जारी किया है।

उन्होंने कहा, “यह विशुद्ध रूप से दुर्गा प्रतिमा विसर्जन और मुहर्रम जुलूस के बीच संभावित संघर्षो से बचने के लिए एक एहतियाती उपाय है।”