यहां उपद्रवियों ने तोड़ दी महात्मा गांधी की मूर्ति, मचा बड़ा बवाल

गुजरात के अमरेली जिले में हरिकृष्ण सरोवर के पास महात्मा गांधी की प्रतिमा अज्ञात व्यक्तियों ने तोड़ दी। यह जानकारी पुलिस ने दी। एक अधिकारी ने बताया कि प्रतिमा 2018 में हरिकृष्ण सरोवर के पास स्थित एक उद्यान में लगायी थी।

Published by Aditya Mishra Published: January 4, 2020 | 9:49 pm
Modified: January 4, 2020 | 9:56 pm

अहमदाबाद: गुजरात के अमरेली जिले में हरिकृष्ण सरोवर के पास महात्मा गांधी की प्रतिमा अज्ञात व्यक्तियों ने तोड़ दी। यह जानकारी पुलिस ने दी। एक अधिकारी ने बताया कि प्रतिमा 2018 में हरिकृष्ण सरोवर के पास स्थित एक उद्यान में लगायी थी।

सरोवर सूरत के हीरा कारोबारी सावजीभाई ढोलकिया के ढोलकिया फाउंडेशन ने बनवाया था और उसका सौंन्दर्यीकरण किया था।
सरोवर का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2017 में किया था।

लाठी पुलिस थाने के उप निरीक्षक वाई पी गोहिल ने कहा, घटना कल रात में हुई। दोषियों की पहचान और उनकी धरपकड़ के प्रयास किये जा रहे हैं। हमने डायरी में प्रविष्टि की है। यह उन लोगों का काम हो सकता है जो सरोवर के निर्माण से नाखुश थे या ये असामाजिक तत्वों का काम हो सकता है।

ये भी पढ़ें…महात्मा गांधी आज होते तो संघ में रहते- BJP राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा

पहले भी सामने आई चुकी है ऐसी घटनाएं

उत्तर प्रदेश के जालौन में भी महात्मा गांधी की प्रतिमा तोड़ दी गई थी। यह प्रतिमा जिले के श्री गांधी इंटर कॉलेज में स्थापित थी। बताया जाता है कि कुछ शरारती तत्वों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के साथ बर्बरता की , जिसके कारण प्रतिमा से बापू का सिर टूटकर अलग गिर गया। इस घटना के बाद इलाके में हालात तनावपूर्ण हो गया था।

महात्मा गांधी की प्रतिमा तोड़े जाने के बाद स्थानीय लोगों ने रोष व्यक्त किया था। लोगों ने बापू की नई प्रतिमा लगाने और शरारती तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग भी की थी। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर जाकर भीड़ को शांत कराया था।

ये भी पढ़ें…अब BJP के इस नेता ने महात्मा गांधी को बताया- ‘पाकिस्तान का राष्ट्रपिता’