×

Gujjar reservation: हिंसक हुआ आंदोलन, कई वाहनों में लगाई आग

आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समुदाय का सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर में दिल्ली-मुबंई रेलवे ट्रैक पर महापड़ाव तीसरे दिन भी जारी है। इसके चलते कई ट्रेनें लगातार प्रभावित हुई हैं। कोटा रेलवे मंडल ने 13 फरवरी तक 26 ट्रेनों को रद्द कर दिया है, जबकि 26 ट्रेनों को डायवर्ट किया गया है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 10 Feb 2019 7:49 AM GMT

Gujjar reservation: हिंसक हुआ आंदोलन, कई वाहनों में लगाई आग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्‍ली : आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समुदाय का सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर में दिल्ली-मुबंई रेलवे ट्रैक पर महापड़ाव तीसरे दिन भी जारी है। इसके चलते कई ट्रेनें लगातार प्रभावित हुई हैं। कोटा रेलवे मंडल ने 13 फरवरी तक 26 ट्रेनों को रद्द कर दिया है, जबकि 26 ट्रेनों को डायवर्ट किया गया है।

पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जरों का आंदोलन तीसरे दिन सड़क पर हिंसक रूप ले लिया।जहां अपनी मांगों को लेकर गुर्जर नेता दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे हैं जिससे कई प्रमुख ट्रेनों को रद्द कर दिया गया हैं या उनके मार्ग में बदलाव किया गया है। वहीं बूंदी जिले के नैनवां में भी प्रदर्शनकारियों ने सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 148 पर जाम लगा दिया। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकायिों ने कई गाडियों को भी आग के हवाले कर दिए हैं।

शनिवार को हुई बातचीत बेनतीजा रही

उल्लेखनीय है कि गुर्जर नेता पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर शुक्रवार की शाम को सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर में रेल पटरी पर बैठ गए थे। आंदोलनकारियों और सरकारी प्रतिनिधिमंडल में शनिवार को हुई बातचीत बेनतीजा रही। राज्य सरकार द्वारा गठित समिति के सदस्य पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह और भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी नीरज के पवन ने शनिवार को गुर्जर नेता किरोडी सिंह बैंसला से बातचीत की लेकिन बैंसला अपनी मांग पर अडे रहे।

क्या है मांग

गुर्जर समाज सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्‍थानों में प्रवेश के लिए गुर्जर, रायका रेबारी, गडिया, लुहार, बंजारा और गड़रिया समाज के लोगों को पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहा है। वर्तमान में अन्‍य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण के अतिरिक्‍त 50 प्रतिशत की कानूनी सीमा में गुर्जरों को अति पिछड़ा श्रेणी के तहत एक प्रतिशत आरक्षण अलग से मिल रहा है।

ये भी देखें : मोदी सरकार ने 26 साल पुराना नियम बदल कर दी बीजेपी के वोटों की जुगाड़

ये ट्रेन हैं रद्द

हजरत निजामुद्दीन-अहमदाबाद, हजरत निजामुद्दीन-उदयपुर, उदयपुर-निजामुद्दीन देहरादून-बांद्रा एक्सप्रेस, बांद्रा टर्मिनस-लखनऊ एक्सप्रेस, इंदौर-नई दल्लिी सुपारफास्ट एक्सप्रेस, नई दिल्ली-इंदौर सुपारफास्ट एक्सप्रेस, बांद्रा-निजामुद्दीन गरीब रथ।

ये हुई हैं डायवर्ट

फिरोजपुर कैंट-मुंबई सेंट्रल को रेवाडी-फुलेरा, चंदेरिया-रतलाम को आगरा कैंट-झांसी-बीना जंक्शन से निकाला जा रहा है।

सीएम रख रहे नजर

ये भी देखें :गुंटूर से PM लाइव : लोग झूठ की बुनियाद पर महामिलावट का खेल खेलने लगे हैं

सीएम अशोक गहलोत इस समय दिल्ली में हैं, वो दोपहर बाद जयपुर लौट सकते हैं अधिकारी उन्हें आंदोलन से जुड़ी हर खबर बता रहे हैं।

सीएम जयपुर पहुंचने के बाद गुर्जर आंदोलन को लेकर अफसरों के साथ मीटिंग कर सकते हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story