×

Himachal Weather: हिमाचल के रामपुर में दो बार बादल फटने से भारी तबाही, आज-कल के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

Himachal Weather: हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले के रामपुर में बीती देर रात दो बार बादल फटने से भारी तबाही हुई। ऐसे में यहां के लोगों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Archana Pandey
Published on: 26 July 2023 5:45 AM GMT (Updated on: 26 July 2023 5:57 AM GMT)
Himachal Weather: हिमाचल के रामपुर में दो बार बादल फटने से भारी तबाही, आज-कल के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी
X
Heavy Rain Cloud Burst In Rampur Shimla (Image- Social Media)

Himachal Weather: हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले के रामपुर में बीती देर रात दो बार बादल फटने से भारी तबाही हुई। बारह-बीश एरिया की सरतारा पंचायत के कंदार गांव में 4 मकान ढह गए। गाय, बैल, भेड़-बकरियां भी बह गईं। कई मकानों और सेब के बगीचों में पानी भर गया। इस घटना में लोगों ने भागकर अपनी जान तो बचा ली, लेकिन उन्हें मकान और बगीचों के चलते काफी नुकसान हुआ है।

बारिश के कारण रामपुर ITI के साथ लगने वाला नाला भी भारी उफान पर है। रामपुर के अन्य क्षेत्रों में भी तबाही की सूचनाएं आ रही है। सरपारा पंचायत के प्रधान मोहन कपाटिया ने बताया कि यहां बादल फटने से सरपारा गांव का सपंर्क देश-दुनिया से कट गया है। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि मौके पर जाकर स्थिति की जायजा लेने के बाद प्रभावितों को तुरंत राहत दी जाए।

कुल्लू की गड़सा घाटी में फटा बादल

इससे पहले, कुल्लू जिले की गड़सा घाटी में मंगलवार सुबह 4 बजे बादल फटा था। जिसके कारण पंचा नाले और हुरला नाले में बाढ़ आ गई थी। इससे तीन मकान बह गए और दो बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए थे। घटना में 17 मकानों को आशिंक रुप से नुकसान पहुंचा है। इसके अलावा तीन पैदल और एक वाहन योग्य पुल और कई वाहन भी पानी में बह गए हैं।

आज-कल भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने आज और कल के लिए भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। यह अलर्ट चंबा, कांगड़ा, शिमला, कुल्लू, मंडी, बिलासपुर, सोलन व सिरमौर के लिए जारी किया गया है। इन 2 दिनों में कई क्षेत्रों में भारी बारिश के साथ बादल फटने की संभावनाएं हैं। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में 31 जुलाई तक मौसम खराब रहेगा।

स्कूलों में 28 जुलाई तक छुट्टियां रहेंगी
भारी बारिश के कारण ठियोग, रोहड़ू, रामपुर सब डिवीजन में आने वाले सभी निजी और सरकारी स्कूलों की छुट्टियां 28 जुलाई तक बढ़ा दी गई हैं। वहीं, सीबीएसई और आईसीएसई से संबद्ध स्कूल अपने स्तर पर फैसला ले सकते हैं।

44 लोगों की जान जा चुकी अब तक
प्रदेश में 24 जून से अब तक फ्लैश फ्लड व लैंड स्लाइड की चपेट में आने से 44 लोगों की जान जा चुकी है। 7 से 11 जुलाई के बीच भारी बारिश के कारण 42 लोगों की मौत हो गई है। कुल्लू और मंडी जिले में सबसे ज्यादा तबाही मची हुई है।

Archana Pandey

Archana Pandey

Next Story