×

जानिए कौन थे बूटा सिंह, जिन्होंने कांग्रेस के बड़े नेता के रूप में बनाई पहचान

बूटा सिंह कांग्रेस पार्टी के एक बड़े वफादार नेता थे जिनका पॉलिटकल करियर काफी शानदार रहा है। बताया जाता है कि यह नेता नेहरू -गांधी परिवार के काफी विश्वास पात्र लोगों में से एक माने जाते थे। आपको बता दें कि इन्होंने गृहमंत्री, कृषिमंत्री, बिहार राज्यपाल और राजस्थान सांसद के रूप में काम किया।

Newstrack
Updated on: 21 March 2021 8:44 AM GMT
जानिए कौन थे बूटा सिंह, जिन्होंने कांग्रेस के बड़े नेता के रूप में बनाई पहचान
X
जानिए कौन थे बूटा सिंह, जिन्होंने कांग्रेस के बड़े नेता के रूप में बनाई पहचान photos (social media)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ : बूटा सिंह भारती़य राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के रूप में देश में अपनी पहचान बनाई। इनका जन्म आज ही के दिन यानि 21 मार्च 1934 को पंजाब के जालंधर में हुआ था। आपको बता दें यह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वफादार नेता के रूप में जाने जाते हैं। आज इनके जन्म दिन के अवसर पर इनका सियासी करियर जानते हैं।

ऑपरेशन ब्लू स्टार में अपनी बड़ी भूमिका निभाई

बूटा सिंह कांग्रेस पार्टी के एक बड़े वफादार नेता थे जिनका पॉलिटकल करियर काफी शानदार रहा है। बताया जाता है कि यह नेता नेहरू -गांधी परिवार के काफी विश्वास पात्र लोगों में से एक माने जाते थे। आपको बता दें कि इन्होंने गृहमंत्री, कृषिमंत्री, बिहार राज्यपाल और राजस्थान सांसद के रूप में काम किया। कहा जाता है कि बूटा सिंह ने इंदिरा गांधी की सरकार में ऑपरेशन ब्लू स्टार में अपनी बड़ी भूमिका निभाई थी। बताया जाता है कि इस ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद पंजाब से इन्हें राजस्थान के लिए ट्रांसफर कर दिया था।

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता का पॉलिटिकल करियर

बूटा सिंह ने साल 1984 से लेकर 1986 तक कृषि मंत्री का पद संभाला। इसके बाद इन्होंने 1986 से 1989 के बीच देश के गृहमंत्री के पद का कार्यभार संभाला है। कहा जाता है कि इसके बाद इन्होंने राष्ट्रीय अनुसूचित जाती आयोग के अध्यक्ष पद का कार्यभार संभाला है। बूटा सिंह को कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ दलित नेता भी कहा जाता है। बताया जाता है कि इन्होंने अपने करियर में राज्यपाल के रूप में भी शानदार काम किया। इसके साथ राजीव गांधी के सरकार में दूसरे नंबर के नेता के रूप में भी गिना जाता था।

ये भी पढ़े.....पूर्ब मेदिनीपुरः यहां हर काम के लिए कटमनी देना पड़ता है, टोलाबाजी हो रहीः अमित शाह

buta_singh

बूटा सिंह का निधन

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता के रूप में पहचान बनाने वाले बूटा सिंह काफी वफादार नेता के रूप में याद किया जाता है। आपको बता दें कि इनका 86 साल की उम्र में दिल्ली के एम्स में लम्बी बीमारी के चलते 2 जनवरी 2021 को इनका निधन हो गया था। बताया जाता है कि कांग्रेस नेता बूटा सिंह पिछले साल काफी कोमा में थे। आज भी इनके कामों को याद किया जाता है।

ये भी पढ़े.....PM मोदी कल विश्व जल दिवस पर ‘जल शक्ति अभियानः कैच द रेन’ अभियान की शुरुआत करेंगे

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story