युद्ध के लिए तैयार वायुसेना: सीमा पर गरजे फाइटर जेट, कांपे चीन-पाक

सीमा विवाद को लेकर बढ़ते तनाव के बीच भारतीय वायुसेना ने शुक्रवार को कहा कि हमें यह शंका है कि चीन और पाकिस्तान दोनों भारत के खिलाफ एक साथ आ सकते हैं।

Sukhoi M30

युद्ध के लिए तैयार वायुसेना: सीमा पर गरजे फाइटर जेट, कांपे चीन-पाक (फाइल फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: लद्दाख में सीमा पर भारत और चीन के बीच तनाव बरकरार है। तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुका है। अब सीमा विवाद को लेकर बढ़ते तनाव के बीच भारतीय वायुसेना ने शुक्रवार को कहा कि हमें यह शंका है कि चीन और पाकिस्तान दोनों भारत के खिलाफ एक साथ आ सकते हैं।

वायुसेना ने कहा कि ऐसी स्थिति में हम दोनों मोर्चों पर एक साथ सामना करने को तैयार हैं। भारतीय वायुसेना का कहना है कि हम इन दोनों देशों की गतिविधियों पर अपनी पैनी नजर रखे हुए हैं।

अब इस बीच भारतीय वायुसेना ने पीओके और चीन सीमा के पास एक फॉरवर्ड एयर बेस पर सुखोई-30 MKI लड़ाकू विमान को उड़ाया गया। गौरतलब है कि फारवर्ड एयरबेस से पाकिस्तान 50 किलोमीटर के करीब है और रणनीतिक दौलत बेग ओल्डी लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

यह भी पढ़ें…बिहार: त्योहारी खुमार के बीच चुनाव, जलेगी लालू की लालटेन या नीतीश करेंगे धमाका

Fighter jet

चीन-पाक पर पैनी नजर

भारतीय वायुसेना ने आगे बताया कि लड़ाकू विमानों, परिवहन विमानों और हेलीकॉप्टरों के संचालन के द्वारा हम दिन और रात इनकी गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। वहीं श्योक नदी के पास बने फारवर्ड एयरबेस जहां खार-डूंग से गुजरते हुए सुखोई-30 MKI और सी-130 जे सुपर हरक्यूलिस ,आईयूशिन -76 और एंटोन -32 सहित कई विमान लगातार उड़ान भर रहे हैं और चीन-पाक पर पैनी नजर रख रहे हैं।

यह भी पढ़ें…योगी सरकार मददगार: गन्ना किसानों को दी राहत, तीन सालों में ऐसे बने मसीहा

डीबीओ और पूर्वी लद्दाख में भी कड़ी निगरानी

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के साथ चल रहे संघर्ष के मद्देनजर, भारतीय लड़ाकू विमान एलएसी के आसपास सैनिकों, राशन और गोला-बारूद के साथ एयरबेस के भीतर और बाहर उड़ान भर रहे हैं। डीबीओ और पूर्वी लद्दाख में भी कड़ी निगरानी है।

यह भी पढ़ें…चीन में मुस्लिमों पर कहर: हुआ बड़ा खुलासा, 16 हजार मस्जिदों को तुड़वाया

पाकिस्तान के स्कार्दू एयरबेस से खतरे और चीन-पाकिस्तान के एक साथ आने की संभावना के बारे में भी वायुसेना ने बात की है। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पूछे जाने पर फ्लाइट लेफ्टिनेंट के एक भारतीय वायुसेना पायलट ने कहा कि आधुनिक प्लेटफॉर्म की वजह से भारतीय वायुसेना पूरी तरह से प्रशिक्षित है और कोई भी बड़े से बड़े ऑपरेशन करने के लिए तैयार है। पायलट ने कहा कि हम किसी भी विकट स्थिति में दोनों देशों से निपटने को तैयार हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App