चाय-भुजिया वाले पर IT का छापा, दर्जनों खातों और 250 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति का खुलासा

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने इस चाय-भुजिया वाले के 16 बैंक लॉकरों का पता लगाया है, जिनमें 8 बैंक लॉकरों से 2.5 करोड़ के हीरे और सोने के जेवरात के अलावा 75 लाख कीमत की 175 किलों चांदी बरामद की गई है। उसके एक लॉकर से एक करोड़ रुपए से ज्यादा के 2000 वाले नए नोट जब्त किए गए हैं।

Published by zafar Published: December 17, 2016 | 1:36 pm
Modified: December 18, 2016 | 11:44 am
सूरत में चाय-भजिया बेचने वाले की संपत्ति हो सकती है 2 हजार करोड़ से ज्‍यादा

सूरत: नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स के छापों में हैरान कर देने वाले खुलासे हो रहे हैं। कर्नाटक में बाथरूम से मिले करीब 6 करोड़ रुपयों के बाद अब चौंकाने वाली खबर सूरत से है। यहां एक चाय वाले के घर और व्यावसायिक ठिकानों पर मारे गए छापे में डिपार्टमेंट को 250 करोड़ की संपत्ति का पता लगा है। इस चायवाले के पास 27 बैंक खाते हैं।

करोड़पति चायवाला
-सूरत में एक चाय-भुजिया बेचने वाले के घर और व्यावसायिक ठिकानों पर मारे गए छापे में ढाई सौ करोड़ से ज्यादा की संपत्ति का पता लगा है।
-इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने इस चाय-भुजिया वाले के 16 बैंक लॉकरों का पता लगाया है, जिनमें 8 बैंक लॉकरों से 2.5 करोड़ के हीरे और सोने के जेवरात के अलावा 75 लाख कीमत की 175 किलों चांदी बरामद की गई है।
-इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तलाशी के दौरान पीपुल्स कोऑपरेटिव बैंक के उसके एक लॉकर से एक करोड़ रुपए से ज्यादा के 2000 वाले नए नोट जब्त किए गए हैं।
-आईटी डिपार्टमेंट ने एचडीएफसी समेत किशोर के 27 बैंक खातों का पता लगाया है।
-जानकारी के मुताबिक नोटबंदी के बाद वह 15 % कमीशन लेकर पुराने नोटों से नए नोट बदलने का धंधा कर रहा था।

भुजियावाले से बना फायनेंसर
-किशोर भुजियावाला इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की निगाहों में तब चढ़ा जब उसने नोटबंदी के बाद अपने एक अकाउंट में डेढ़ करोड़ रुपए जमा किए।
-जानकारी के अनुसार कभी सूरत के उधना में ठेले पर चाय और भुजिया बेचने वाले किशोर ने एक दशक पहले ब्याज पर पैसे देने का काम शुरू कर दिया था।
-आईटी डिपार्टमेंट को छापे में मिले दस्तावेजों के अनुसार उसने ब्याज से करीब 4 करोड़ रुपए उगाही की है।
-ब्याज पर पैसे देते देते अचानक वह ‘किशोर चाय-भुजियावाले’ से ‘केके फायनेंसर किशोर भुजियावाला’ बन गया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App