×

Report: 2021 तक भारतीय मीडिया, मनोरंजन कारोबार 2,91,000 करोड़ रुपए का होगा

देश के मनोरंजन और मीडिया क्षेत्र के साल 2021 तक 2,91,000 करोड़ रुपए से अधिक के कारोबार तक पहुंचने तक उम्मीद है ।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 8 Jun 2017 9:15 AM GMT

Report: 2021 तक भारतीय मीडिया, मनोरंजन कारोबार 2,91,000 करोड़ रुपए का होगा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Report: 2021 तक भारतीय मीडिया, मनोरंजन कारोबार 2,91,000 करोड़ रुपए का होगा

नई दिल्ली: देश के मनोरंजन और मीडिया क्षेत्र के साल 2021 तक 2,91,000 करोड़ रुपए से अधिक के कारोबार तक पहुंचने तक उम्मीद है और इसकी साल 2017-21 के बीच वार्षिक वृद्धि दर (सीएजीआर) 10.5 फीसदी होगी। प्राइसवाटरहाउसकूपर्स (PricewaterhouseCoopers) की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

इसमें बताया गया कि टीवी सब्सक्रिप्शन राजस्व 2016 में 52,755 करोड़ रुपये था जो 2021 में 90,713 करोड़ रुपये हो जाएगा, जिसकी सीएजीआर 11.6 फीसदी होगी।

यह भी पढ़ें ... RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने कहा- किसानों के ऋण माफ करने से बढ़ेगी महंगाई

वहीं, विज्ञापन के संदर्भ में टीवी की हिस्सेदारी सबसे अधिक बनी रहेगी जो 2016 में 21,874 करोड़ रुपये रही, वह साल 2021 तक बढ़कर 37,315 करोड़ रुपये होगी। 2017-21 में इंटरनेट विज्ञापन की वृद्धि दर 18.6 फीसदी होगी, जबकि टीवी की विज्ञापन की वृद्धि दर 11.1 फीसदी होगी।

Report: 2021 तक भारतीय मीडिया, मनोरंजन कारोबार 2,91,000 करोड़ रुपए का होगा

भारतीय सिनेमा में साल 2017 से 2021 के दौरान 10.4 फीसदी की वृद्धि दर होगी और बॉक्स ऑफिस से प्राप्त राजस्व जो साल 2016 में 10,957 करोड़ रुपये था, वह साल 2021 तक बढ़कर 18,047 करोड़ रुपये हो जाएगा।

वहीं, सिनेमा की टिकटों की कीमतों की वृद्धि दर समीक्षाधीन अवधि में 7.9 फीसदी से बढ़ेगी। देश में प्रकाशन कारोबार साल 2016 में 38,601 करोड़ रुपये का रहा है जो साल 2021 तक 44,319 करोड़ रुपये की हो जाएगी। इसकी सीएजीआर 3.1 फीसदी होगी।

यह भी पढ़ें ... TRAI ने वॉयस, डेटा गुणवत्ता की निगरानी के लिए 3 नए मोबाइल एप उतारे

इंटरनेट विज्ञापन के राजस्व के संदर्भ में एशिया प्रशांत क्षेत्र में भारत का स्थान आठवां है। भारत के इस क्षेत्र में पीछे रहने का मुख्य कारण देश में बड़ी संख्या में लोगों के इंटरनेट से मरहूम रहना है।

--आईएएनएस

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story