मन मुताबिक फीड बैक हासिल कर जबरदस्ती की वाहवाही लूटने में जुटा रेलवे

रेलवे मंत्रालय ने इन दिनों वाहवाही लूटने की नायाब तरकीब निकाल रखी है। इस तरकीब में चित और पट दोनों रेलवे महकमे के हाथ लगता है।

Published by tiwarishalini Published: September 3, 2017 | 4:35 pm
Modified: September 3, 2017 | 5:06 pm

योगेश मिश्र
लखनऊ :
रेलवे मंत्रालय ने इन दिनों वाहवाही लूटने की नायाब तरकीब निकाल रखी है। इस तरकीब में चित और पट दोनों रेलवे महकमे के हाथ लगता है। आप करें चाहे जो कुछ पर आप के किए का अर्थ रेलवे विभाग के अच्छे कामकाज में इजाफा ही कर जाएगा। रेलवे के कामकाज को जांचने-परखने के लिए जो कवायद शुरू की गई है उसमें आपके ना का मतलब भी हां हो जाता है।

इसके लिए रेलवे महकमे ने मिस्ड कॉल के मार्फत रायशुमारी का फॉर्मेट अपनाया है। मंत्रालय की ओर से ‘अननोन’ नंबर से कॉल आती है। जिसमें एक आदमी आप से पूछता है कि रेलवे का कामकाज, सुरक्षा, संरक्षा और सुविधाएं आपको कैसी लगती हैं।

यह भी पढ़ें …. निर्मला सीतारमन होंगी देश की अगली रक्षा मंत्री, पीयूष गोयल बनेंगे रेल मंत्री

आप जवाब दें उससे पहले वह आदमी अपने बोलने के क्रम को विराम दिए बिना यह कहता जाता है कि यदि आपको रेलवे के कामकाज से कोई शिकायत है अथवा कोई सुझाव देना चाहते हैं तो एक दबाएं।

लेकिन पूरी कोशिश के बाद भी आप इस ‘अननोन’ कॉल के मार्फत रेलवे की सेहत जानने के इस अभियान में अपने मोबाइल या लैंडलाइन पर एक दबा नहीं पाएंगे।

यह भी पढ़ें …. सपा के पूर्व सांसद ने किया अर्धनिर्मित रेल पुल का उद्घाटन, पुलिस ने लिया हिरासत में

नतीजतन थोड़ी देर बाद उस आवाज को यह कहते हुए आप सुन सकते हैं कि अगर आप कुछ नही दबाते हैं तो यह मान लिया जाएगा कि आप रेलवे के कामकाज से संतुष्ट हैं। इस नायाब तरीके से रेलवे अपनी पीठ थपथपाने के अभियान में जुटी है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App