गलती से LoC पार कर गया भारतीय जवान, PAK सेना ने किया अरेस्‍ट, राजनाथ बोले-बचाएंगे जान

Published by Published: September 30, 2016 | 8:57 am
Modified: September 30, 2016 | 4:47 pm
indian-sainik-arrest

नई दिल्ली: सेना के सर्जिकल आॅपरेशन के बाद एक भारतीय जवान गलती से पाक सीमा में घुस गया है। पाकिस्तान आर्मी ने उसे अरेस्ट कर लिया है। यह भारतीय जवान 37 राष्ट्रीय राइफल्स का बताया जा रहा है। जवान गस्त के दौरान गलती से एलओसी पार कर गया। बॉर्डर पर मौजूद पाक आर्मी ने उसे अरेस्ट कर लिया।

होम मिनिस्टर ने कहा हर संभव जवान को वापस लाने की कोशिश की जाएगी। डीजीएमओ रनवीर सिंह ने पाकिस्तान से बात की थी। भारतीय सेना ने पाक से कहा है कि सर्जिकल स्ट्राइक से इस जवान का कोई लेना देना नहीं है। फिलहाल, राजनाथ सिंह ने कहा है कि वह हर हालत में जवान को बचाने का प्रयास करेंगे।

यह भी पढ़ें… मोदी ने पूरा किया वादा, घर में घुसकर लिया उरी अटैक का बदला, बौखला गया PAK

जवान को वापस लाने की मांग
-खबर मिलते ही भारतीय सेना के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने पाकिस्तान को इसकी जानकारी दी है। -फिलहाल, अभी तक भारतीय जवान पाकिस्तान सेना की कस्टडी में है।
-एक तरफ जहां बुधवार की रात भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक कर पाक सीमा में घुसकर 35 आतंकियों को मार गिराया था। -इस खबर के बाद पूरे देश में जश्न मनाया गया। पीएम मोदी के जयकारे लगाए गए।
-वहीं अब पाक कस्टडी से भारतीय जवान को सकुशल निकालने के लिए मांग की जा रही है।
-अब देखना यह है कि पीएम मोदी जवान को पाक से कब तक वापस लाएंगे।

आगे की स्‍लाइड्स में पढ़ें भारतीय जवानों ने कैसे दिया सर्जिकल ऑपरेशन को अंजाम…

भारतीय जवानों ने कैसे दिया इस ऑपरेशन को अंजाम
हेलीकॉप्‍टकर से पाक सीमा में भारतीय जवान उतरे थे।
-भारतीय जवानों ने पाक सीमा में करीब 2 किमी अंदर जाकर इस हमले को अंजाम दिया है।
-जवानों ने पाक आतंकियों के 7 ठिकानों को तबाह कर दिया गया है इसमें 35 आतंकियों को मारा गया है।

यह भी पढ़ें… UN में बोलीं सुषमा- पाक से की दोस्ती की कोशिश, बदले में मिला पठानकोट और उरी

-5 जगहों पर सेना ने एक साथ हमला बोला।
-बुधवार की रात 12:30 बजे से लेकर 4:30 बजे तक यह ऑपरेशन चला।
-आॅपरेशन को अंजाम देने के बाद सेना वापस भारत लौट आई है।
-इस आॅपरेशन में भारतीय जवान बिल्‍कुल सुरक्षित हैं।
-240 मिनट तक सर्जिकल स्ट्राइक चला।
-100 कमांडो ने 7 ठिकानों पर हमला बोला, 35 आतंकी ढेर।

यह भी पढ़ें… उरी में शहीद जवान की पत्‍नी ने कहा-अमेरिका की तरह PAK में घुसकर हाफिज को मारे भारत

आगे की स्‍लाइड्स में पढ़ें क्‍या है सर्जिकल स्‍ट्राइक…

क्या है सर्जिकल स्ट्राइक ?
-सर्जिकल स्ट्राइक में अपने लक्ष्य में सरप्राइज अटैक यानी अचानक हमला किया जाता है।
-जिससे सामने वाले को किसी भी तरह की कार्रवाई का कोई मौका नहीं मिल पाता है ।
-यह सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन सेना द्वारा किया जाने वाला एक नियंत्रित हमला होता है।
-जिसमें किसी खास इलाके में पहले से तय विशेष ठिकाने पर हमला करके उसे खत्म किया जाता है।
-इससे सेना द्वारा बड़े पैमाने पर उस इलाके में बर्बादी को रोका जाता है।
-सर्जिकल स्ट्राइक में विशेष तरीके से अटैक करने के तरीके को डिजाइन किया जाता है।
-सेना द्वारा किए गए इस सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन में सिविलियन इलाके को कोई हानि नहीं होती है।
-इसका कारण यह है कि यह ऑपरेशन सिर्फ दुश्मनों के ठिकानों तक की नियंत्रित रहता है।

पिछले साल भी भारतीय सेना ने किया था सर्जिकल स्ट्राइक
भारतीय सेना द्वारा म्यांमार में पिछले साल किया गया सर्जिकल स्ट्राइक इसका सबसे बेहतर उदाहरण है। वहां भारतीय सेना के 70 जवानों ने म्यांमार में घुसकर 40 मिनट के अंदर 38 नगा विद्रोहियों को मार गिराया था। इस ऑपरेशन में 7 विद्रोही घायल हुए थे। गौरतलब है की अमेरिका ने भी सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन के तहत ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था।

यह भी पढ़ें…जानिए कौन है पाक कब्जे में बंद भारतीय सैनिक बाबूलाल, सदमे से हुई नानी की मौत

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App