इंस्टाग्राम ने चैटरबॉक्स मामले में कहा, ईमेल या मोबाइल नंबर अनुचित तरीके से नहीं निकाला गया

कंपनी ने यह बयान उन खबरों की पृष्ठभूमि में दिया है जिनमें कहा जा रहा है कि एक भारतीय निकाय चैटरबॉक्स ने कथित तौर पर अनुचित तरीके से इंस्टाग्राम के उपयोक्ताओं की जानकारियां जमा की है। ये जानकारियां लाखों सेलेब्रिटी और ब्रांडों समेत 4.90 करोड़ से अधिक उपयोक्ताओं की हैं।

नई दिल्ली: ऑनलाइन तस्वीरें शेयर करने की सुविधा देने वाली कंपनी इंस्टाग्राम ने शुक्रवार को कहा कि प्रारंभिक जांच में उसके उपयोक्ताओं का निजी ईमेल या मोबाइल नंबर अनुचित तरीके से निकाले जाने का कोई सबूत नहीं मिला है।

ये भी देंखे:भारतीय महिला तीसरे मैच में टीम कोरिया से 0-4 से हारी

कंपनी ने यह बयान उन खबरों की पृष्ठभूमि में दिया है जिनमें कहा जा रहा है कि एक भारतीय निकाय चैटरबॉक्स ने कथित तौर पर अनुचित तरीके से इंस्टाग्राम के उपयोक्ताओं की जानकारियां जमा की है। ये जानकारियां लाखों सेलेब्रिटी और ब्रांडों समेत 4.90 करोड़ से अधिक उपयोक्ताओं की हैं।

इंस्टाग्राम ने कहा कि वह इस बात की जांच कर रही है कि क्या किसी तीसरे पक्ष ने उसकी नीतियों का उल्लंघन करते हुए उपयोक्ताओं की जानकारियां गलत तरीके से जमा की है।

कंपनी के एक प्रवक्ता ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, ‘‘हम जानकारियों के दुरुपयोग के हर आरोप को गंभीरता से लेते हैं। इस बारे में किये दावों की प्राथमिक जांच में हमने पाया कि इंस्टाग्राम के उपयोक्ताओं का निजी ईमेल या मोबाइल नंबर अनुचित तरीके से नहीं निकाला गया है।’’

ये भी देंखे:उच्चतम न्यायालय: कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार की याचिका खारिज की

प्रवक्ता ने कहा कि चैटरबॉक्स का डेटाबेस सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध है और ये सूचनाएं कई स्रोतों से इकट्ठा की गयी हैं जिनमें एक स्रोत इंस्टाग्राम भी है।

(भाषा)