×

ISIS मॉड्यूल: NIA की यूपी, पंजाब सहित 7 ठिकानों पर छापेमारी

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने यूपी के अमरोहा और हापुड़ में छापेमारी की। यूपी के अलावा एनआईए ने पंजाब में भी छापेमारी की है। ये छापेमारी आईएसआईएस के नए मॉड्यूल हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम से जुड़े मामले में की जा रही है। आईएसआईएस के नए मॉड्यूल के सरगना के मोबाइल में मिली जानकारी के आधार पर एनआईए ने ये कार्रवाई की है। एनआईए की टीम अभी पूछताछ कर रही है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 Jan 2019 5:17 AM GMT

ISIS मॉड्यूल: NIA की यूपी, पंजाब सहित 7 ठिकानों पर छापेमारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने यूपी के अमरोहा और हापुड़ में छापेमारी की। यूपी के अलावा एनआईए ने पंजाब में भी छापेमारी की है। ये छापेमारी आईएसआईएस के नए मॉड्यूल हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम से जुड़े मामले में की जा रही है। आईजी एटीएस असीम अरुण ने बताया इस छापेमारी में यूपी एटीएस भी साथ है।

ये भी देखें :पत्रकार छत्रपति हत्याकांड: दोषी गुरमीत राम रहीम की सजा का ऐलान आज

आईएसआईएस के नए मॉड्यूल के सरगना के मोबाइल में मिली जानकारी के आधार पर एनआईए ने ये कार्रवाई की है। एनआईए की टीम अभी पूछताछ कर रही है। अभी किसी गिरफ्तारी की सूचना नहीं है।

सूत्रों के मुताबिक एनआईए ने यूपी के मेरठ और बुलंदशहर, रामपुर में भी छापेमारी की है। यूपी और पंजाब में कुल 7 स्थानों पर छापेमारी की जा रही है।

ये भी देखें : मेघालय: 36 दिन भारतीय नौसेना को मिला कोयला खदान में फंसे एक मजदूर का शव

गौरतलब है कि हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम के चीफ मुफ्ती हुसैन सहित 4 संदिग्ध आतंकियों को एनआईए ने रिमांड पर ले रखा है। इससे पहले एजेंसी अमरोहा, लखनऊ, मेरठ और हापुड़ में छापेमारी कर 10 संदिग्‍धों को हिरासत में लिया गया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story