×

बोलीं महबूबा- आतंकियों के परिवारों पर हमला न करे पुलिस

जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को पुलिसकर्मियों से आतंकवादियों के परिवारों पर हमला न करने का आग्रह किया।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 25 Oct 2017 1:55 PM GMT

बोलीं महबूबा- आतंकियों के परिवारों पर हमला न करे पुलिस
X
बोलीं महबूबा- आतंकियों के परिवारों पर हमला न करे पुलिस
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को पुलिसकर्मियों से आतंकवादियों के परिवारों पर हमला न करने का आग्रह किया। गांदरबल जिले में पुलिस प्रशिक्षण केंद्र में पुलिस कर्मियों की पासिंग आउट परेड को संबोधित करते हुए महबूबा ने कहा कि आतंकवादियों के परिवारों पर केवल इसलिए हमला न करें क्योंकि वे (आतंकवादी) पुलिसकर्मियों के परिवारों पर हमला करते हैं। आपको फर्क समझना चाहिए।

महबूबा ने कहा कि पुलिसकर्मियों को अपने दायित्वों का निर्वाह करने में कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ती हैं, लेकिन उन्होंने हमेशा अनुशासन और त्याग का उदाहरण पेश किया है।

यह भी पढ़ें ... कश्मीर पर वार्ताकार की नियुक्ति से सैन्य अभियान प्रभावित नहीं होगा : सेना प्रमुख

सीएम ने कहा कि किसी न किसी कारण से आतंकवाद से जुड़ने वाले स्थानीय आतंकवादियों का समर्पण सुनिश्चित करने के प्रयास किए जाने चाहिए। महबूबा की यह टिप्पणी सुरक्षा बलों द्वारा दक्षिण कश्मीर के इलाके में कुछ आतंकवादियों के घरों में तोड़फोड़ की खबरों के बाद आई है।

सीएम महबूबा मुफ्ती ने कहा कि आतंकी हमारे लोगों को मार देते हैं, पुलिस जवानों को शहीद कर देते हैं और घरों को जलाते हैं। लेकिन, सुरक्षाबलों के जवानों को ऐसा नहीं करना चाहिए। हम कानून के रखवाले हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे ऐसी शिकायत नहीं मिलनी चाहिए कि आतंकियों ने तोड़फोड़ की है, तो हम भी तोड़फोड़ कर दें।

यह भी पढ़ें ... धारा 35ए पर महबूबा को प्रधानमंत्री का भरोसा संदेहास्पद : उमर

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story