×

जम्मू कश्मीर में मुठभेड़: घंटों चली गोली बारी में एक आतंकी ढेर

आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर की घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच पहली बार मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर शहीद हो गया और दूसरा घायल हो गया। लेकिन सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को भी ढेर कर दिया।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 21 Aug 2019 5:10 AM GMT

जम्मू कश्मीर में मुठभेड़: घंटों चली गोली बारी में एक आतंकी ढेर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

श्रीनगर: आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर की घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच पहली बार मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर शहीद हो गया और दूसरा घायल हो गया। लेकिन सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को भी ढेर कर दिया। 20 अगस्त मंगलवार की शाम से ही शुरू हुआ ये एनकाउंटर अब खत्म हो गया है। जहां मुठभेड़ हुई वहां से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं और मारे गए आतंकी की पहचान की जा रही है।

ये भी देखें:पूर्व CM बाबूलाल गौर के निधन के समाचार ने द्रवित कर दियाः कैलाश विजयवर्गीय

बारामूला श्रीनगर से करीब 54 किलोमीटर की दूरी पर है। ख़बरों के अनुसार इस एनकाउंटर में दो से तीन आतंकियों को सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने घेर रखा था। पुलिस से घिरा हुआ देख आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें SPO बिलाल शहीद हो गए, जबकि एसआई अमरदीप परिहार घायल हो गया। अभी उनका इलाज आर्मी हॉस्पिटल में चल रहा है। इस महीने की 5 तारीख को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा लिया गया था। इसके बाद से यहां पाबंदियों के बीच माहौल बेहद शांत था।

ये भी देखें:भोपालः पूर्व CM बाबूलाल गौर का दोपहर 2:00 बजे अंतिम संस्कार किया जाएगा

ख़बरों के अनुसार, आने वाले दिनों में जम्मू-कश्मीर के IAS और कश्मीर एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (KAS) के अधिकारी, आर्टिकल 370 हटाने से होने वाले फायदे की जानकारी कम से कम 20-20 स्थानीय परिवारों तक पहुंचाएंगे। इसके अलावा आर्टिकल 370 के हटने से स्थितियों में क्या-क्या सुधार आएगा इसका भी लेखा-जोखा अधिकारी परिवारों को देंगे। इन फायदों के बारे में बताने के लिए सरकार टीवी, रेडियो और दूसरे प्रचार माध्यमों का सहारा भी लेगी।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story