चीन को फिर लगा झटका: अब इस देश ने किया विरोध, भारत का खुला समर्थन

जापान के राजदूत सतोशी सुजुकी ने अपने बयान में भारत के समर्थन की पुष्टि करते हुए कहा कि वह लद्दाख में एलआईसी पर 15 जून को हुए भारत-चीन सैनिकों के बीच की झड़प पर में चीन की यथास्थिति बदलने का विरोध करता है।

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा विवाद में कई देशों समर्थन भारत को मिला। अमेरिका के बाद जापान खुल कर भारत के साथ LAC विवाद में खड़ा है। शुक्रवार को जापान के राजदूत सतोशी सुजुकी ने अपने बयान में भारत के समर्थन की पुष्टि करते हुए कहा कि वह लद्दाख में एलआईसी पर 15 जून को हुए भारत-चीन सैनिकों के बीच की झड़प पर में चीन की यथास्थिति बदलने का विरोध करता है।

जापान ने दिया भारत को समर्थन

जापानी राजदूत ने भारतीय विदेश सचिव हर्ष वी श्रृंगला से भारत-चीन विवाद को लेकर फोन पर बातचीत की और अपना समर्थन जाहिर किया। इस बारे में ज्यादा जानकारी देते हुए सुजुकी ने ट्वीट कर लिखा, ‘जापान संवादों के माध्यम से शांतिपूर्ण समाधान की उम्मीद करता है।’

अहमदाबाद पहुंचे शिंजो आबे, PM मोदी ने कुछ ऐसे किया स्वागत

फोन पर भारतीय विदेश सचिव से की LAC तनाव पर बात

सुजुकी ने फोन कॉल के बारे में जानकारी देते हुए लिखा,एफएस (विदेश सचिव) श्रृंगला के साथ अच्छी बातचीत हुई। एलएसी के हालात पर उनकी ब्रीफिंग और भारत सरकार की शांतिपूर्ण समाधान की नीति को लेकर मैं उनकी सराहना करता हूं। जापान भी उम्मीद करता है कि संवादों के माध्यम से इस समस्या का शांतिपूर्ण समाधान निकाला जाएगा।जापान, यथास्थिति बदलने के किसी भी एकतरफा प्रयास का विरोध करता है।’

ये भी पढ़ेंः चीन के खिलाफ ये तीन देश: उठाया ऐसा कदम, तिलमिला गया ड्रेगन

चीन का खुला विरोध

भारत चीन सीमा विवाद में टोक्यों का भारत के पक्ष में खुलकर बोलना और समर्थन उनका चीन के खिलाफ खुले विरोध को स्पष्ट कर रहा है।

इसके पहले अमेरिका ने भी LAC पर चीन की गतिविधियों का खुलासा करते हुए आरोप लगाया था कि दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुआ विवाद चीन सेना की सोची समझी साजिश थी।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App