×

LOC से बड़ी खबर: आतंकियों की साजिश फेल, सुरक्षाबलों को मिली सफलता

भारतीय सेना के जवानों को बड़ी कामयाबी मिली है। रियासी जिले में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के नापाक इरादों को मिट्टी में मिला दिया है। यहां से एक आतंकी ठिकाने से गोला-बारूद बरामद किया गया है। घाटी में इस ऑपरेशन को रियासी पुलिस और भारतीय सेना ने अंजाम दिया है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 1 Jan 2021 11:20 AM GMT

LOC से बड़ी खबर: आतंकियों की साजिश फेल, सुरक्षाबलों को मिली सफलता
X
LOC से बड़ी खबर: आतंकियों की साजिश फेल, सुरक्षाबलों को मिली सफलता
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना के जवानों को बड़ी कामयाबी मिली है। रियासी जिले में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के नापाक इरादों को मिट्टी में मिला दिया है। यहां से एक आतंकी ठिकाने से गोला-बारूद बरामद किया गया है। घाटी में इस ऑपरेशन को रियासी पुलिस और भारतीय सेना ने अंजाम दिया है। साल 2020 में भारतीय सेना ने 225 आतंकियों और 41 आतंकी कमांडरों को मार गिराया। जिससे घाटी में चैन-शांति बनी रहे।

ये भी पढ़ें... जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले मे बर्फबारी, तापमान में गिरावट

संयुक्त तलाशी अभियान शुरू

आपको बता दें, सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मोहम्मद यूसुफ(20) पुत्र गुलाम हैदर निवासी देवल तहसील महोर को पुलिस स्टेशन महोर की टीम द्वारा गिरफ्तार किया गया था। ऐसे में इस पूछताछ के दौरान उसने बताया कि कुछ कैश, हथियार और गोला बारूद रियासी जिले के गांव लोअर अंगरला में एक ठिकाने में छिपा रखा है।

इसके साथ ही जम्मू कश्मीर पुलिस के नेतृत्व में एक संयुक्त तलाशी अभियान शुरू किया गया। इस अभियान के दौरान ठिकाने से गोला बारूद के साथ 5 ग्रेनेड और 9 एमएम पिस्टल बरामद की गई।

INDIAN ARMY फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...Live-जम्मू कश्मीर को सौगात, PM मोदी ने शुरु की सेहत स्वास्थ्य बीमा योजना

तीनों ही आतंकी किश्तवाड़ में

जम्मू-कश्मीर डीजीपी दिलबाग सिंह ने जम्मू में आतंकियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि जम्मू में सिर्फ तीन आतंकी सक्रिय हैं, ये तीनों ही आतंकी किश्तवाड़ में हैं। दिलबाग सिंह ने कहा कि इन तीनों के अलावा कुछ स्लीपिंग सेल्स भी सक्रिय हैं जिन पर नजर रखी जा रही है।

डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि साल 2020 काफी हद तक कम गहमागहमी भरा रहा। साथ ही उन्होंने साल की सबसे बड़ी उपलब्धि डीडीसी चुनावों को बताया। उन्होंने इस बारे में कहा कि यह उपलब्धि इसलिए भी है क्योंकि पाकिस्तान लगातार इसके खिलाफ साजिश रचता रहा है। और इतना ही नहीं पुंछ सहित कई जगहों पर चुनाव में खलल डालने की कोशिश भी गई।

ये भी पढ़ें...जम्मू-कश्मीर: आतंकियों और सुरक्षाबलों में मुठभेड़, सेना ने दो दहशतगर्दों को घेरा

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story