भारत-पाक की बैठक: देखते हैं क्या निष्कर्ष निकलता है करतारपुर कॉरिडोर को लेकर

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के हटने के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के रिश्ते खराब चल रहे हैं। जम्मू कश्मीर को लेकर कर चल रहे तनाव के बीच भारत और पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर को लेकर शुक्रवार यानी आज बैठक करेंगे।

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के हटने के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के रिश्ते खराब चल रहे हैं। जम्मू कश्मीर को लेकर कर चल रहे तनाव के बीच भारत और पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर को लेकर शुक्रवार यानी आज बैठक करेंगे। दोनों देशों के बीच होने वाली कमेटी की ये बैठक डेरा बाबा नानक में जीरो प्वांइट पर होने वाली है।

यह भी पढ़ें: आर्टिकल 370 हटने के बाद पहली बार श्रीनगर का दौरा करेंगे सेना प्रमुख

इसको लेकर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने कहा कि करतारपुर साहिब गलियारे को पूरा करने और इसके उद्घाटन को लेकर पाकिस्तान प्रतिबद्ध है।

मोहमम्द फैजल ने कहा कि करतारपुर साहिब गालियारे को लेकर दोनों देशों के बीच 30 अगस्त को जीरो प्वांइट पर बैठक होगी। पाकिस्तान करतारपुर साहिब गलियारे को पूरा करने और इसके उद्घाटन को लेकर पूरे तरह से प्रतिबद्ध है और भारत भी पाकिस्तान के इस फैसले से सहमत है।

यह भी पढ़ें: आर्टिकल 370 पर केंद्र सरकार को नोटिस जारी, मामले की सुनवाई अक्टूबर में

पाकिस्तान ने कहा कि वह करतारपुर साहिब गलियारे परियोजना पर काम जारी रखेगा और गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर इसका उद्धाटन करेगा। बता दें कि करतारपुर गुरुद्वारा पाकिस्तान के रावी नदी पर स्थित है और भारत के गुरुदासपुर जिला के डेरा बाबा श्राइन से लगभग चार किलोमीटर दूर है। सिख धर्म के संस्थापक 1939 में यहां करीब 18 साल तक रहे थे।

जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटने के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के रिश्ते खराब चल रहे हैं। इस बीच दोनों देश आज करतारपुर कॉरिडोर को लेकर आज जीरो प्वांइट बैठक करने वाले हैं।