×

बजट के कवर पेज पर महात्मा गांधी के मर्डर सीन की तस्वीर छापने पर मचा हंगामा

उन्होंने कहा कि 'मेरे बजट भाषण का कवर एक राजनीतिक बयान है। यह मलयालम कलाकार की पेंटिंग है जिसमें महात्मा गांधी के मर्डर सीन को दिखाया गया है। हम यह संदेश देना चाहते हैं कि महात्मा गांधी के हत्यारों को हम भूलेंगे नहीं।'

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 7 Feb 2020 9:37 AM GMT

बजट के कवर पेज पर महात्मा गांधी के मर्डर सीन की तस्वीर छापने पर मचा हंगामा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: वित्तमंत्री की बजट स्पीच के कवर पेज पर महात्मा गांधी के मर्डर सीन की तस्वीर लगाए जाने के मामले में केरल सरकार की मुसीबत बढ़ सकती है।

सरकार में वित्त मंत्री थॉमस इसाक के बजट भाषण के कवर पेज पर यह विवादित तस्वीर लगी है जिसमें राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के मर्डर सीन को दिखाया गया है।

अब इस तस्वीर को लेकर वित्तमंत्री की ओर से सफाई सामने आई है। उन्होंने कहा कि 'मेरे बजट भाषण का कवर एक राजनीतिक बयान है। यह मलयालम कलाकार की पेंटिंग है जिसमें महात्मा गांधी के मर्डर सीन को दिखाया गया है। हम यह संदेश देना चाहते हैं कि महात्मा गांधी के हत्यारों को हम भूलेंगे नहीं।'

माकपा नीत एलडीएफ सरकार के इस कदम पर बीजेपी नेता टॉम वड्डक्कन ने कहा, 'कौन लोग हैं जो महात्मा गांधी की हत्या का जश्न मना रहे हैं। सरकार ने यह किस मंसूबे के तहत किया है।

गांधी जी की हत्या के समय की तस्वीर छाप कर आप यह याद दिला रहे हैं कि किस तरह से इस सरकार में लोगों की हत्या की जा रही है। कवर पर महात्मा गांधी की हत्या की तस्वीर प्रकाशित कर ये लोग अपनी सरकार की नाकामयाबी और गलत कामों को छिपाना चाह रहे हैं।'

उन्होंने कहा कि केरल की राज्य सरकार लोगों का ध्यान मूल मुद्दों से भटकाना चाह रही है। राज्य में हो रही राजनीतिक हत्याओं का इनके पास कोई जवाब नहीं है, ये लोग ऐसे तरीकों के जरिए जनता का ध्यान हटाना चाहते हैं, इन्हें केरल की जनता को जवाब देना ही होगा।

'बीजेपी अपना इतिहास जानती है'

इसके जवाब में राजेश ने कहा कि हाल ही में कांग्रेस से बीजेपी में आए वड्डक्न को यह समझना चाहिए कि केरल सरकार को कुछ भी छिपाना नहीं है बल्कि हमारी विकास दर देश के राज्यों में सबसे ज्यादा है। इनकी सरकार चीजों को छिपा रही है। केंद्रीय बजट में भी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नॉमिनल जीडीपी का जिक्र किया है,

बजट के कवर पर गांधी जी के हत्या से जुड़ी तस्वीर और उसका बजट से संबंध पर राजेश ने कहा कि बीजेपी अपना इतिहास जानती है ऐसे में उन्हें यह बुरा लग रहा है।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story