×

G20 Meet: पीएम मोदी की बैठक में हिस्सा लेंगी ममता, 5 दिसंबर को दिल्ली दौरा, बंगाल के मुद्दों पर भी हो सकती है चर्चा

G20 Meet: भारत को 2023 में जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करनी है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सिलसिले में तैयारियों पर चर्चा करने के लिए 5 दिसंबर को मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई है।

Anshuman Tiwari
Updated on: 24 Nov 2022 10:32 AM GMT
G20 Meet
X

पीएम नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Pic: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

G20 Meet: भाजपा से सियासी तनातनी के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 5 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से बुलाई गई मुख्यमंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के लिए तैयार हो गई हैं। भारत को 2023 में जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करनी है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सिलसिले में तैयारियों पर चर्चा करने के लिए 5 दिसंबर को मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई है। मुख्यमंत्री सचिवालय के सूत्रों ने ममता के पीएम मोदी की बैठक में हिस्सा लेने की पुष्टि की है।

सूत्रों का कहना है कि पीएम के बैठक में हिस्सा लेने के अलावा ममता प्रधानमंत्री के साथ अलग बैठक भी कर सकती हैं। जानकारों का कहना है कि इस बैठक के दौरान ममता प्रधानमंत्री से पश्चिम बंगाल के बकाये का भुगतान करने के साथ ही राज्य की अन्य समस्याओं पर भी चर्चा कर सकती हैं।

बंगाल के बकाये का मुद्दा उठने की संभावना

टीएमसी की मुखिया ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे के समय राजधानी का सियासी तापमान बढ़ जाता है। अपने पूर्व के दिल्ली दौरे के समय ममता विपक्षी नेताओं से भी चर्चा करती रही हैं। अपने पिछले दौरे के समय उन्होंने आप के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। दोनों मुख्यमंत्रियों ने केंद्रीय बकाया राशि के भुगतान पर सहमति जताई थी।

ममता बनर्जी काफी दिनों से बंगाल के बकाये के भुगतान की मांग करती रही हैं। माना जा रहा है कि ममता के 5 दिसंबर को प्रस्तावित दौरे के समय भी यह मांग उठ सकती है। हालांकि राज्य सचिवालय और मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने प्रधानमंत्री के साथ ममता की अलग बैठक की अभी तक पुष्टि नहीं की है। जानकारों का मानना है कि इस बाबत प्रधानमंत्री कार्यालय से चर्चा की जा रही है।

ममता दिखा चुकी हैं तीखा तेवर

ममता ने हाल में राज्य के बकाये का भुगतान न होने पर तीखा तेवर अपनाया था। मोदी सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा था कि क्या अपने राज्य के बकाये के भुगतान के लिए मुझे प्रधानमंत्री के पैर छूने पड़ेंगे? राज्य के आर्थिक सलाहकार और पूर्व वित्त मंत्री अशोक मित्रा ने भी हाल में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर राज्य के बकाये के भुगतान की मांग की थी।

बाढ़ और कटान की समस्या पर भी होगी चर्चा

जानकार सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री के साथ बैठक के दौरान ममता पश्चिम बंगाल में बाढ़ और कटान की समस्या पर भी चर्चा कर सकती हैं। कटान के मुद्दे पर ममता ने हाल में प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा था और मांग की थी कि संबंधित मंत्रालय इस संबंध में विस्तृत अध्ययन करके एकीकृत योजना तैयार करें।

ममता मुर्शिदाबाद,नदिया और मालदा में गंगा नदी के कटान से पैदा हुई समस्या पर पूर्व में भी चिंता जताती रही हैं। लगातार हो रही कटान के कारण पश्चिम बंगाल के कई जिलों के लोग परेशान हैं। पीएम मोदी के साथ ममता की प्रस्तावित बैठक में यह मुद्दा भी प्रमुखता से उठने की संभावना जताई जा रही है।

Jugul Kishor

Jugul Kishor

Next Story