मनमोहन ने किया ट्रंप के रात्रिभोज में जाने से इंकार, ये है बड़ी वजह

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सम्मान में आयोजित इस रात्रिभोज में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को भी न्योता दिया गया है। लेकिन सभी नेताओं ने इस भोज में आने से मना कर दिया है।

Published by SK Gautam Published: February 24, 2020 | 9:16 pm
Modified: February 24, 2020 | 9:25 pm

नई दिल्ली: अपने दो दिवसीय भारत दौरे पर आये अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा मंगलवार को दिए जाने वाले रात्रिभोज में लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन ने जाने से मना किया है। वह यूपीए चेयरपर्सन और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को न्योता नहीं दिए जाने से नाराज हैं। बताया जा रहा है कि मनमोहन सिंह भी रात्रिभोज में नहीं  शामिल होंगे।

ये नेता नहीं होंगे शामिल रात्रिभोज में

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सम्मान में आयोजित इस रात्रिभोज में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को भी न्योता दिया गया है। लेकिन सभी नेताओं ने इस भोज में आने से मना कर दिया है। यानी कि राष्ट्रपति ट्रंप के सम्मान में आयोजित भोज में कांग्रेस का कोई नेता शामिल नहीं होगा।

हालांकि शुरुआत में डॉ. मनमोहन सिंह और गुलाम नबी आजाद के इस भोज में शामिल होने की बात कही गई थी लेकिन सोमवार को शाम होते-होते दोनों ने शामिल होने से इनकार कर दिया।उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए निमंत्रण अस्वीकार किया है।\

ये भी देखें: विधान परिषद में गूंजा अलीगढ़ लाठीचार्ज मामला, सपा वेल में

सोनिया गांधी को न्योता नहीं दिए जाने से नाराज

बताया जा रहा है कि सभी नेता, यूपीए चेयरपर्सन और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को न्योता नहीं दिए जाने से नाराज हैं। गुलाम नबी आजाद ने स्पष्ट किया है कि जब यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी को भोज में शामिल होने का न्योता नहीं मिला है तो उनके आने का सवाल ही नहीं उठता है।

वहीं अधीर रंजन का मानना है कि सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी की नेता सोनिया गांधी को रात्रिभोज का न्योता दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि ये उस पुरानी परंपरा से हटना है जिसमें विपक्षी दलों के वरिष्ठ नेताओं को आमंत्रित किया जाता रहा है।

राष्ट्रपति की ओर से दिए जाने वाले इस आधिकारिक भोज में चुनिंदा हस्तियों को न्योता दिया गया है, जिनमें डॉ मनमोहन सिंह भी शामिल हैं। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के भी रात्रिभोज में हिस्सा लेने की संभावना है।

ये भी देखें: जलशक्ति मंत्री का बड़ा बयान, दिल्ली से आती है यूपी में सबसे ज्यादा गंदगी

मोटेरा स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में विपक्षी नेताओं की अनदेखी

राज्यसभा में विपक्ष के उपनेता आनंद शर्मा ने अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में विपक्षी नेताओं की अनदेखी की निंदा की है। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप दो दिन के भारत दौरे पर हैं।

बता दें, इस भोज में उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला और केंद्रीय मंत्रिमंडल के सदस्यों को आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा, भोज में राज्यसभा और लोकसभा में विपक्ष के नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App