×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Chandigarh: BJP नेता मनप्रीत सिंह बादल के आवास पर विजिलेंस की रेड, 6 राज्यों में तलाश, भाग सकते हैं विदेश

Manpreet Singh Badal: चंडीगढ़ डीसीपी ने बताया कि, उन्हें यहां कुछ नहीं मिला। उन्होंने कहा, मनप्रीत सिंह बादल ने जमानत के लिए याचिका दायर की है। कोर्ट में हम उसका विरोध करेंगे।

aman
Report aman
Published on: 29 Sep 2023 3:34 PM GMT (Updated on: 29 Sep 2023 3:48 PM GMT)
manpreet singh badal news
X

manpreet singh badal (Social Media)

Chandigarh News: पंजाब के पूर्व मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता मनप्रीत सिंह बादल (Manpreet Singh Badal) के चंडीगढ़ स्थित आवास पर विजिलेंस विभाग ने छापेमारी की। रेड पर चंडीगढ़ के DSP कुलवंत सिंह ने कहा, 'हमें यहां पर कुछ भी नहीं मिला। उन्होंने जमानत याचिका दायर की है, जिसे 4 अक्टूबर के लिए सूचीबद्ध किया गया है। हम कोर्ट में इसका विरोध करेंगे।'

आपको बता दें, शिमला में मनप्रीत सिंह बादल के ठिकानों पर पंजाब विजिलेंस (Punjab Vigilance) की टीम ने रेड की। दरअसल, पंजाब विजिलेंस को शक है कि मनप्रीत बादल विदेश जाने की फिराक में हैं। विजिलेंस उन्हें ढूंढने के लिए अलग-अलग शहरों और विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। शिमला के खलीनी में छापेमारी की गई। मनप्रीत बादल की तलाश में विजिलेंस की टीम ने 6 राज्यों में छापेमारी की है।

क्या है मामला?

ज्ञात हो कि, बीजेपी के पूर्व मंत्री मनप्रीत सिंह बादल बठिंडा में एक प्रॉपर्टी खरीद मामले में अनियमितता के आरोपों का सामना कर रहे हैं। पंजाब की एक अदालत ने 26 सितंबर को बादल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। बीते दिनों कोर्ट ने मनप्रीत बादल के खिलाफ लुकआउट नोटिस (Lookout notice Manpreet Badal) भी जारी किया था। विजिलेंस डिपार्टमेंट ने मनप्रीत सिंह सहित 4 अन्य आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया। हालांकि, मामले में संलिप्त 3 अन्य आरोपियों को पहले ही अरेस्ट किया जा चुका है। उनके नाम राजीव कुमार, अमनदीप सिंह और विकास अरोड़ा हैं। बता दें कि, मनप्रीत सिंह बादल के खिलाफ सरूप चंद सिंगला ने उक्त मामले में शिकायत दर्ज करवाई थी।

बादल पर पद के दुरुपयोग का आरोप

सरूप चंद सिंगला (Saroop Chand Singh) ने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने अपने आरोपों में कहा है कि, मनप्रीत बादल ने 2018 से 2021 के दौरान वित्त मंत्री रहते हुए अपने राजनीतिक प्रभाव का सहारा लेकर बठिंडा में संपत्ति खरीदी थी। जिससे राज्य के खजाने को लाखों का नुकसान हुआ। बहरहाल, अब मनप्रीत सिंह बादल इस मामले में जांच का सामना कर रहे हैं। आने वाले दिनों में जांच की दिशा कैसी रहती है, इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

गौरतलब है कि, मनप्रीत सिंह बादल बीते दिनों कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए। वहीं, उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को सिरे से खारिज कर इसे राजनीतिक दुर्भावना से प्रेरित बताया है।

aman

aman

Content Writer

अमन कुमार - बिहार से हूं। दिल्ली में पत्रकारिता की पढ़ाई और आकशवाणी से शुरू हुआ सफर जारी है। राजनीति, अर्थव्यवस्था और कोर्ट की ख़बरों में बेहद रुचि। दिल्ली के रास्ते लखनऊ में कदम आज भी बढ़ रहे। बिहार, यूपी, दिल्ली, हरियाणा सहित कई राज्यों के लिए डेस्क का अनुभव। प्रिंट, रेडियो, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया चारों प्लेटफॉर्म पर काम। फिल्म और फीचर लेखन के साथ फोटोग्राफी का शौक।

Next Story