मायावती ने उज्ज्वला योजना को किया टारगेट, बताया ऊंट के मुंह में जीरा

Published by Published: May 3, 2016 | 4:14 pm
Modified: May 5, 2016 | 11:45 am

नई दिल्ली: मायावती एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी पर हमलावर हुई हैं। उन्होंने केंद्र सरकार की रसोई गैस से जुड़ी ‘उज्जवला’ योजना को यूपी के लिए ‘ऊंट के मुंह में जीरा’ बताया है। मायावती ने इस योजना को 125 करोड़ लोगों के लिए नाकाफी बताया है।

मायावती ने कहा, कि ‘देश में लोगों को रसोई गैस जैसी बुनियादी ज़रूरत की वस्तु को भी सभी लोगों तक मुहैया नहीं करा पाना पूर्ण रूप से सरकार की विफलता का प्रमाण है।’

‘उज्जवला’ योजना राज्य के लिए नाकाफी
पूर्व सीएम मायावती के मुताबिक यूपी की आबादी लगभग 22 करोड़ है। यहां के 80 में से 73 सांसद भाजपा के हैं। खुद पीएम वाराणसी से सांसद हैं। इस नाते यूपी के हिस्से में ’उज्जवला’ योजना का जो थोड़ा लाभ आ पाएगा, वह राज्य के लिए बहुत कम है।

माया की मांग फ्री मिले गैस
मायावती ने कहा, रसोई गैस कनेक्शन ही नहीं रसोई गैस भी मुफ्त मिलनी चाहिए। उनके मुताबिक गैस कनेक्शन ही मुफ्त दिया जा रहा है, जो कि भाजपा सरकार के उदासीन और दिखावटी रवैए को ही उजागर करता है।

‘मोदी ने की कांग्रेस वाली हरकत’
माया का आरोप है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कुछ लोगों को ई-रिक्शा बांटा जो यूपी के शेष 79 लोकसभा क्षेत्र के साथ भेदभाव है। यही काम कांग्रेस के नेता गण पहले किया करते थे। अमेठी, रायबरेली आदि क्षेत्र के लोगों को ही विशेष सुविधाएं मिल पाती थी।

सपा पर भी साधा निशाना
मायावती ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘शासक परिवार अपने संसदीय क्षेत्र ख़ासकर आज़मगढ़ और इससे पहले संभल तथा अपने पैतृक क्षेत्र सैफई, इटावा पर ही मेहरबान रही है। इन क्षेत्रों में विकास के नाम पर बेवजह धन लुटाया जा रहा है।

मायावती ने केंद्र सरकार की जनधन योजना और किसान बीमा योजना पर भी निशाना साधा।