झारखंड : नमामि गंगा मिशन के बाद अब गंगा ग्राम की धूम

Published by Rishi Published: November 4, 2018 | 5:52 pm

नई दिल्ली : केंद्रीय पेयजल और स्वच्छता मंत्री उमा भारती ने कहा कि राज्य में स्वच्छता कवरेज की वर्तमान दर के साथ झारखंड अपने स्थापना दिवस के अवसर पर 15 नवंबर को खुले में शौच से मुक्त राज्य बन जाएगा।

उमा भारती झारखंड के राजमहल में गंगा ग्राम स्वच्छता सम्मेलन के अवसर पर विचार वयक्त करते हुए कहा कि गंगा नदी के किनारों पर बसे गांवों को आदर्श गंगा ग्राम बनाने के लिए सार्वजनिक भागीदारी इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कुंजी है। उन्होंने लोगों से एसएलडब्लूएम गतिविधियों में भाग लेने की अपील की।

ये भी देखें : इस दीपावली PM मोदी की शुभकामनाएं और स्वदेशी संदेश आया है

यह भी पढ़ें— मध्य प्रदेश में कांग्रेस के पास सेनापति ही नहीं : अमित शाह

ये भी देखें : MP Election: लिखी जाने लगी BJP की हार वाली स्क्रिप्‍ट, पंजे संग आया हाथी-साइकिल भी चलेगी साथ

ये भी देखें : कांग्रेस आजादी के लिए गोरों से लड़ी, अब चोरों से लड़ेगी : कमलनाथ

ये भी देखें : वायरल वीडियो : #CriminalKamalnath को आपराधिक छवि वाले नेता पसंद हैं ?

मंत्री ने जल के स्रोतों को प्रदूषण से बचाने के लिए अपशिष्ट प्रबंधन और जैविक खेती को बढ़ावा देने पर भी जोऱ दिया। घाट सौंदर्यीकरण और अन्य स्वच्छता पहलों में साहिबगंज जिले के प्रयासों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष में, गंगा बैंक राजस्व भूमि में 7.5 लाख से अधिक पेड़ लगाए गए है।

इस सम्मेलन में लगभग दस हजार स्वच्छाग्रहियों, गंगा स्वयंसेवकों, युवा संगठन के सदस्यों, छात्रों और समाज के हर क्षेत्र से जुड़े लोगों के साथ साथ बहुत सी महिला प्रतिभागियों ने भी भाग लिया।

गंगा ग्राम गंगा नदी के किनारों पर बसे गांवों को आदर्श गांवों में बदलने की एक अवधारणा है जिसके अंतर्गत गांव को खुले में शौच से मुक्त करने के साथ साथ  ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन, जल संरक्षण, भूजल संरक्षण, आधुनिक श्मशान, वृक्षारोपण, जैविक और औषधीय गुणों से युक्त पौधों को लगाने और कृषि जैसे मुख्य घटकों पर जोर दिया जाता है। पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय गंगा नदी के किनारों पर बसे 4465 गांवों को ओडीएफ बनाने के बाद, इस दिशा में कार्य कर रहा है।

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री ने राजमहल में शमशान और घाट, नगरपालिका अपशिष्ट जल परियोजना की भी नींव रखी। उन्होंने उत्कृष्ट रानी मिस्त्रियो का सम्मान किया और गंगा ग्राम प्रदर्शनी का उद्घाटन किया।