मोदी, हसीना, ममता ने बंधन एक्सप्रेस को हरी झंडा दिखाकर किया रवाना

पीएम नरेंद्र मोदी, बांग्लादेश की उनकी समकक्ष शेख हसीना और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने गुरुवार को संयुक्त रूप से कोलकाता-खुलना बंधन एक्सप्रेस को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

Published by tiwarishalini Published: November 9, 2017 | 3:24 pm
Modified: November 9, 2017 | 5:28 pm
मोदी, हसीना, ममता ने बंधन एक्सप्रेस को हरी झंडा दिखाकर किया रवाना

कोलकाता : भारत और बांग्लादेश ने अपने संपर्क संबंधों को आगे बढ़ाते हुए गुरुवार को एक नई रेल लाइन शुरू की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उनकी बांग्लादेशी समकक्ष शेख हसीना और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने संयुक्त रूप से कोलकाता-खुलना के बीच चलने वाली बंधन एक्सप्रेस को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। तीनों नेताओं ने रेल क्षेत्र में भारत-बांग्लादेश सहयोग के अंतर्गत कोलकाता स्टेशन पर मैत्री एक्सप्रेस और बंधन एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए इंटरनेशनल पैसेंजर रेल टर्मिनल और कस्टम क्लीयरेंस सुविधाओं का भी उद्घाटन किया।

ढाका और चटगांव के बीच कनेक्टिविटी में तेजी लाने के लिए बांग्लादेश में तीस्ता और भैरव नदी पर रेलवे पुलों का भी उद्घाटन किया गया।

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत, बांग्लादेश के विकास में भरोसेमंद सहयोगी बनने पर गर्व महसूस करता है और भारत द्वारा दिए 10 करोड़ डॉलर कर्ज से बने दो सेतु बांग्लादेश के रेल नेटवर्क को मजबूत करने में सहायक साबित होंगे।

उन्होंने कहा कि विकास और संपर्क एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं और भारत व बांग्लादेश विशेष रूप से पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के बीच दशकों पुराने संबंध हैं।

यह भी पढ़ें …. शिवसेना को लगी मिर्ची, बुलेट ट्रेन को बताया- मोदी का ‘महंगा सपना’

वहीं, ढाका में शेख हसीना ने कहा कि इस उद्घाटन ने लंबे समय से संजोए सपने को पूरा किया है और यह बांग्लादेश और भारत के संबंधों का एक और प्रसन्नतापूर्ण क्षण है।

उन्होंने कहा, “मुझे भी पूरा भरोसा है कि ये सेवाएं दोनों देशों की जनता के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान और पर्यटन को बढ़ावा देंगी।”

हसीना ने कहा कि बांग्लादेश और भारत माल परिवहन के लिए 1965 से पहले के रेल संपर्क को फिर से शुरू करने पर कमा कर रहे हैं।

कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, “यह यात्रियों की सुविधा के लिए बहुत बड़ा कदम है। 1965 तक यात्रियों को पहुंचाने वाली बारिसल एक्सप्रेस जब बंद हुई, तो यात्रियों को काफी असुविधा हुई। जब मैं रेल मंत्री थी तो बनगांव पेट्रापोल के जरिए हमने कुछ यात्री सेवाएं शुरू कीं। मैं आशा करती हूं कि दोनों देशों के बीच संबंध और गहरा होगा।”

वातानुकूलित बंधन एक्सप्रेस हर गुरुवार को कोलकाता और खुलना दोनों जगह से चलेगी। यह 177 किलोमीटर की दूरी साढ़े चार घंटे में तय करेगी।

यात्रियों के लिए यह ट्रेन 16 नवंबर से शुरू होगी।  निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक, ट्रेन भारतीय समायुनसार सुबह 11 बजे कोलकाता से रवाना होकर साढ़े चार घंटे में खुलना पहुंचेगी।

–आईएएनएस

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App