×

भगोड़े नीरव मोदी के बंगले को डायनामाइट से कर दिया ध्वस्त

फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी के अलीबाग स्थित बंगले को 100 डायनामाइट का इस्तेमाल कर ढहा दिया गया है। सी-बीच के पास बने लगभग 100 करोड़ के इस बंगले को तोड़ने का दूसरा चरण मंगलवार को ही शुरू हुआ था। पहला चरण 25 जनवरी को शुरू हुआ था। प्रशासन 6 हफ्तों से बंगला ढहाने की कोशिश में लगा है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 March 2019 7:36 AM GMT

भगोड़े नीरव मोदी के बंगले को डायनामाइट से कर दिया ध्वस्त
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मुंबई : फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी के अलीबाग स्थित बंगले को 100 डायनामाइट का इस्तेमाल कर ढहा दिया गया है। सी-बीच के पास बने लगभग 100 करोड़ के इस बंगले को तोड़ने का दूसरा चरण मंगलवार को ही शुरू हुआ था। पहला चरण 25 जनवरी को शुरू हुआ था। प्रशासन 6 हफ्तों से बंगला ढहाने की कोशिश में लगा है। लेकिन यह इतनी मजबूती से बना है कि इसे गिराना काफी मुश्किल हो रहा है।

ये भी देखें : चुनावी रण जीतने के लिए सभी दलों ने झोंकी ताकत, तैयारियों में भाजपा सबसे आगे

बंगला 33 हजार वर्ग फीट में बना है। बंगला अवैध तरीके और तटीय मानदंडों का उल्लंघन कर बनाया गया। नीरव को वर्ष 2011 में 376 वर्ग मीटर में यह बंगला बनाने की इजाजत मिली थी। लेकिन उसने नियम तोड़ते हुए 1081 वर्ग में निर्माण करवाया। फर्स्ट फ्लोर पर 1000 वर्ग फीट का स्वीमिंग पूल था।

बंगले के पिलरों में छेद कर डायनामाइट लगाने का काम गुरूवार को पूरा कर लिया गया। आज इसे रिमोट का बटन दबा जमीन पर ढेर कर दिया गया।

ये भी देखें : खबरदार! बना रहे जोश, मोदी सरकार पर कड़ी कार्रवाई का दबाव

बंगला गिराने के खिलाफ ईडी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। कहना था कि यह पीएनबी घोटाले के मामले में जब्त संपत्तियों में है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story