×

जेटली के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द के लिए नहीं कहा : केजरीवाल

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 24 July 2017 10:04 PM GMT

जेटली के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द के लिए नहीं कहा : केजरीवाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और अन्य के खिलाफ मानहानि के एक मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय को सोमवार को बताया गया कि केजरीवाल ने अपने वकील राम जेठमलानी को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल करने का निर्देश नहीं दिया था।

केजरीवाल ने एक शपथ-पत्र पेश कर उच्च न्यायालय से कहा, "ससम्मान यह अवगत कराया जाता है कि न तो केजरीवाल ने और न ही वरिष्ठ वकील जेठमलानी के सहायक वकीलों ने उन्हें 17 मई, 2017 की सुनवाई के दौरान आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल करने का निर्देश दिया था।"

ये भी देखें:प्रणब दा ने मेरी सरकार के फैसलों की कभी आलोचना नहीं की : मोदी

यहां तक कि केजरीवाल ने जेठमलानी को एक पत्र लिखकर अपना वह दावा वापस लेने के लिए कहा है, जिसमें जेठमलानी ने अदालत को बताया था कि उन्होंने 17 मई को संयुक्त रजिस्ट्रार के समक्ष सुनवाई के दौरान केजरीवाल के निर्देश पर आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल किया था।

जेठमलानी ने 17 मई की सुनवाई के दौरान जेटली के लिए 'धोखेबाज' शब्द का इस्तेमाल किया था।जेटली ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) मामले में केजरीवाल और आम आदमी पार्टी (आप) के पांच अन्य नेताओं के खिलाफ 10 करोड़ रुपये का मानहानि का दावा किया है।

सोमवार को केजरीवाल ने ऐसे समय में यह शपथ-पत्र दाखिल किया है, जब जेटली ने मामले में गवाहों की रिकॉर्डिग निष्पक्ष और व्यवस्थित तरीके से तेजी से करने के लिए आवेदन डाला है।

ये भी देखें:कांग्रेसी गढ़ में योगी ने खोला सौगातों का पिटारा, पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे के लिए जमीन अधिग्रहित

जेटली ने अपने आवेदन में कहा है, "केजरीवाल के निर्देश पर जेटली से जिरह के दौरान ढेरों असंगत एवं अपमानपूर्ण सवाल पूछे गए तथा अपमानजनक एवं मानहानि वाले बयान दिए गए।"

जेटली ने दिसंबर, 2015 को केजरीवाल के अलावा आप नेताओं कुमार विश्वास, आशुतोष, संजय सिंह, राघव चड्ढा और दीपक वाजपेयी के खिलाफ डीडीसीए भ्रष्टाचार मामले में झूठे और अपमानजनक बयान देने के लिए मानहानि का मुकदमा किया है।

मामले की सुनवाई के दौरान जेठमलानी द्वारा जेटली के लिए 'धोखेबाज' शब्द का इस्तेमाल करने के बाद जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ 10 करोड़ रुपये का एक और मानहानि का दावा कर दिया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story