पासपोर्ट अप्लाई करने में नहीं चलेगी मनमानी, एक गलती पर 2 साल की जेल

पासपोर्ट के लिए आवेदन करते समय सही जानकारी देनी होगी। देहरादून कार्यालय में सप्ताह भर में 30 से 40 मामले ऐसे आ रहे हैं जिसमें आवेदकों की ओर से जानकारी छिपाई जा रही है।

Published by Aditya Mishra Published: July 6, 2019 | 5:14 pm
Modified: July 6, 2019 | 5:26 pm

उत्तराखंड: पासपोर्ट के लिए आवेदन करते समय सही जानकारी देनी होगी। देहरादून कार्यालय में सप्ताह भर में 30 से 40 मामले ऐसे आ रहे हैं जिसमें आवेदकों की ओर से जानकारी छिपाई जा रही है। विदेश जाने के लिए पासपोर्ट सबसे पहली जरूरत होता है।

नाम, पता आदि की देनी होगी सही जानकारी

पासपोर्ट बनाने के दौरान मांगी गई जानकारी जैसे नाम, पता आदि की पूरी व सही जानकारी देनी होगी। क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी ऋषि अंगारा ने बताया कि पासपोर्ट बनाते समय जानकारी छिपाने पर पासपोर्ट अधिनियम 1967, अनुच्छेद 12 के तहत आवेदक को दो साल की जेल या पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है।

ये भी पढ़ें…पासपोर्ट से छेड़छाड़ और स्टाम्प धोखाधड़ी मामले में 6 गिरफ्तार

स्थायी के साथ हाल निवास का पता भी देना होगा

उन्होंने बताया कि एक सप्ताह में क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय में 30 से 40 मामले ऐसे आ रहे हैं जिसमें आवेदक जानकारी छिपा रहे हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि जानकारी छिपाने वाले पर मुकदमा दर्ज कराकर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

देहरादून का व्यक्ति जो दिल्ली में नौकरी करता है। पासपोर्ट बनाते समय उसने दिल्ली की बजाय देहरादून का पता दिया तो वह कानूनी तौर पर गलत है।

पासपोर्ट के लिए आवेदन करते समय स्थायी पते के साथ ही हाल निवास का पता भी देना होगा। अगर पहले कभी पासपोर्ट के लिए आवेदन किया हो या पासपोर्ट बनाया गया हो तो उसकी भी जानकारी देनी होगी।

ये भी पढ़ें…तन्वी सेठ को उचित प्रक्रिया के बाद पासपोर्ट जारी हुआ : मंत्रालय

इस माह लगेगा पासपोर्ट मेला

पासपोर्ट बनवाने के लिए आवेदकों की संख्या बढ़ जाने के कारण पासपोर्ट केंद्र में इस माह पासपोर्ट मेले का आयोजन किया जाएगा। इसकी तिथि भी जल्द घोषित की जाएगी। अंगारा ने बताया कि एक दिन में 490 ही आवेदन किए जा रहे हैं।

आवेदकों की संख्या अधिक होने के कारण लोगों को दस दिन का इंतजार करना पड़ रहा है। इसके लिए केंद्र में इसी माह पासपोर्ट मेला लगाया जाएगा।

बताया कि हाल ही में पासपोर्ट केंद्र की ओर से सामान्य पासपोर्ट आवेदनों की संख्या 330 से बढ़ाकर 360 कर दी गई है। जबकि तत्काल कोटे में प्रतिदिन 20 से बढ़ाकर 30 आवेदन कर दिए गए।