ओपिनियन पोल: गुजरात में फिर बनेगी BJP सरकार, कांग्रेस का हाल बेहाल

Published by aman Published: December 7, 2017 | 12:36 pm
Modified: December 8, 2017 | 8:38 am
ओपिनियन पोल: गुजरात में फिर बनेगी BJP की सरकार, कांग्रेस फिर बेहाल

नई दिल्ली: देश की राजनीति में इस समय सबकी नजर गुजरात पर ही टिकी हुई है। सोशल मीडिया से लेकर आम लोगों के बीच चर्चा का केन्द्र बिंदु इस समय गुजरात चुनाव ही है। सबके मन में यही उत्सुकता है कि आखिर गुजरात चुनाव में होने क्या जा रहा है। गुजरात चुनाव पर अभी तक चार ओपिनियन पोल आ चुके हैं और इनके अनुसार गुजरात में बीजेपी की सरकार बनने के संकेत मिल रहे हैं।

अगर ऐसा होता है तो बीजेपी लगातार पांचवीं बार गुजरात में सरकार बनाने में कामयाब होगी और कांग्रेस को एक बार फिर विपक्ष में ही बैठना होगा। हालांकि, इस बार जीत का अंतर कम हो सकता है।

ये भी पढ़ें …गुजरात चुनाव से पहले ! मोदी का जलवा बरकरार, राहुल अब भी पीछे : सर्वे

न्यूज नेशन: बीजेपी को 131 से 141 सीटें मिलने की उम्मीद
अभी तक जितने भी ओपिनियन पोल हुए हैं उनमें बीजेपी को सबसे ज्यादा सीट न्यूज नेशन ने दी है। न्यूज नेशन के सर्वे में बीजेपी को विधानसभा की 182 सीटों में से 131-141 सीटें मिल रही हैं, जबकि कांग्रेस 37 से 47 सीटों पर सिमटती दिख रही है। अन्य को चार सीटें मिलने की उम्मीद है। न्यूज नेशन के मुताबिक, उसके 182 संवाददाताओं ने आम लोगों के बीच जाकर असली मुद्दों को समझने की कोशिश की। 31 प्रतिशत लोगों ने विकास के मुद्दे को अहम बताया, जबकि नौ प्रतिशत लोगों ने जीएसटी को मुद्दा बताया। गुजरात चुनाव में चर्चा का विषय बने पाटीदार आरक्षण को सात फीसदी लोगों ने चुनावी मुद्दा बताया, जबकि सात फीसदी लोगों की नजर चुनाव में प्रमुख मुद्दा महंगाई का है।

ये भी पढ़ें …गुजरात चुनाव में BJP को मिलेगा मुस्लिम महिलाओं का साथ, कांग्रेसी सर्वे में हुआ खुलासा !

उल्लेखनीय बात यह है, कि जहां 13 प्रतिशत लोग मानते हैं कि जीएसटी व नोटबंदी के कारण बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ सकता है वहीं 20 प्रतिशत लोग मानते हैं कि इससे बीजेपी को नुकसान नहीं, बल्कि फायदा होगा। 47 प्रतिशत लोगों की नजर जीएसटी व नोटबंदी से बीजेपी पर कोई असर नहीं पड़ेगा। 20 प्रतिशत लोगों ने इस बाबत कोई राय नहीं जाहिर की।

बीजेपी को 49 प्रतिशत मत मिलने की संभावना
पीएम नरेन्द्र मोदी इस चुनाव सबसे बड़े स्टार प्रचारक हैं। 56 प्रतिशत लोग उन्हें सबसे असरदार चुनाव प्रचारक मानते हैं। इस मामले में राहुल गांधी काफी पिछड़े हुए हैं और सिर्फ आठ प्रतिशत लोग ही उन्हें असरदार प्रचारक मानते हैं। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल तो काफी पिछड़ गए हैं। उन्हें सिर्फ चार फीसदी लोग ही असरदार मानते हैं। 32 फीसदी लोगों की नजर अन्य नेता ज्यादा असरदार है। बीजेपी को 49 प्रतिशत मतों की मदद से 131 से 141 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है जबकि कांग्रेस को 37 प्रतिशत मतों के सहारे 37 से 47 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है। अन्य को 14 फीसदी मत मिलने की संभावना है। 44 फीसदी लोग मानते हैं कि पाटीदार आंदोलन का बीजेपी पर कोई असर नहीं पड़ने वाला, जबकि 27 प्रतिशत लोग मानते हैं कि इससे बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ सकता है। 18 प्रतिशत लोगों ने इसे लेकर अपनी राय नहीं जाहिर की।

ये भी पढ़ें …गुजरात में नए सर्वेक्षण में दिखी कड़ी टक्कर, कांग्रेस खुश, BJP असहमत

आगे की स्लाइड में पढ़ें ओपिनियन पोल में अन्य चैनलों ने किस पार्टी को दिया कितना प्रतिशत …

एबीपी-सीएसडीएस: बीजेपी को मिलेंगी 91 से 99 सीटें
एबीपी-सीएसडीएस के ओपिनियन पोल में संभावना जताई गई है कि गुजरात में इस बार बीजेपी को 91 से 99 सीटें मिल सकती हैं। अगर ऐसा होता है तो पिछली बार के मुकाबले बीजेपी की सीटें घटेगी, लेकिन यह ओपिनियन पोल भी कांग्रेस के लिए निराशाजनक ही है। इसके मुताबिक, राहुल गांधी की तमाम कोशिशों के बावजूद कांग्रेस 78 से 86 सीटों पर ही सिमटकर बीजेपी से पिछड़ जाएगी। वैसे, एबीपी न्यूज-सीएसडीएस का ओपिनियन पोल राज्य में नजदीकी मुकाबले का संकेत दे रहा है। इसके मुताबिक राज्य में इस बार बीजेपी व कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर है।

ये भी पढ़ें …Survey: UP निकाय चुनाव में फिर ‘BJP लहर’, 16 में 15 शहरों में जीत

बीजेपी-कांग्रेस दोनों को 43-43 प्रतिशत मत मिलने की उम्मीद
ओपिनियन पोल दोनों ही पार्टियों का वोट शेयर 43-43 प्रतिशत बता रहा है। यदि ऐसा होता है तो यह बीजेपी के लिए चिंता का विषय होगा। इसमें राज्य में बीजेपी की सरकार बनने का दावा तो किया गया है। मगर, कांग्रेस भी उससे बहुत ज्यादा पीछे नहीं रहेगी। ऐसे में जरा सी भी बदली हुई हवा समीकरणों में बड़ा उलटफेर कर सकती है। 22 साल से सत्ता का वनवास झेल रही कांग्रेस के लिए यह ओपिनियन पोल थोड़ा सकारात्मक संकेत दे रहा है।

युवा नेताओं की त्रिमूर्ति दिखा सकती है कमाल
बीजेपी के लिए जातीय समीकरण भी चिंता का विषय बन सकता है क्योंकि ओपिनियन पोल के मुताबिक दलित, आदिवासी और पटेल समुदाय का एक बड़ा हिस्सा कांग्रेस का हाथ थामता दिखाई दे रहा है। इस मामले में हार्दिक पटेल अल्पेश ठाकोर व जिग्नेश की त्रिमूर्ति का कांग्रेस को फायदा मिलता दिख रहा है। बीजेपी इस समीकरण को तोडऩे में जुटी हुई है। अब यह देखने वाली बात होगी कि वह इसमें कहां तक कामयाब हो पाती है। हालांकि, ओपिनियन पोल में हार्दिक पटेल की लोकप्रियता के ग्राफ में गिरावट भी दिख रही है। इसके मुताबिक अक्टूबर में 64 प्रतिशत लोग हार्दिक पटेल के साथ थे वहीं अब पटेल समुदाय के 58 प्रतिशत लोग ही हार्दिक को समर्थन दे रहे हैं। फिर भी माना जा रहा है कि वे बीजेपी के वोट बैंक में सेंधमारी कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें …Survey: हिमाचल में खिलेगा ‘कमल’, एक और राज्य से कांग्रेस का पत्ता साफ

पोल के मुताबिक जिग्नेश मेवाणी और अल्पेश ठाकोर भी बीजेपी को नुकसान पहुंचाने वाले साबित होंगे। माना जा रहा है कि हार्दिक पटेल, जिग्नेश और अल्पेश को कम आंकना बीजेपी के लिए बड़ी भूल साबित हो सकता है। ओपिनियन पोल के मुताबिक जीएसटी से 44 प्रतिशत व्यापारी खुश नहीं है जबकि 37 प्रतिशत व्यापारियों को जीएसटी के पक्ष में बताया गया है। ऐसे में जीएसटी से बीजेपी को कोई बड़ा नुकसान होता नहीं दिख रहा है। अगस्त में हुए सर्वे में बीजेपी को 59 फीसदी मत मिलने की संभावना जताई गई थी, मगर इसमें अब गिरावट दर्ज की गयी है और अब यह वोट प्रतिशत गिरकर 43 प्रतिशत पर पहुंच गया है जो कि बीजेपी के लिए चिंता का कारण हो सकता है।

इंडिया टीवी: बीजेपी को मिलेंगी 106 से 116 सीटें
इंडिया टीवी का ओपिनियन पोल न्यूज नेशन से अलग तस्वीर बयां करता है। इस ओपिनियन पोल के मुताबिक बीजेपी को 106 से 116 सीटें मिलने की उम्मीद है। अगर बीजेपी को 116 सीटें मिलती हैं तो यह लगभग पिछली बार पार्टी को मिली सीटों के बराबर ही होंगी। इंडिया का ओपिनियन पोल बताता है कि कांग्रेस लगातार पांचवीं बार विपक्ष में बैठने को मजबूर होगी। राहुल गांधी के जोरदार प्रचार के बावजूद पार्टी के इस बार अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद नहीं दिख रही है। चैनल के ओपिनियन पोल में कांग्रेस को इस बार के चुनाव में 63 से 73 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है। अगर ऐसा होता है तो यह कांग्रेस के लिए बड़ा झटका साबित होगा।

टाइम्स नाउ: बीजेपी को 111 व कांग्रेस को 68 सीटें मिलने की उम्मीद
टाइम्स नाउ के सर्वे में भी बीजेपी को कांग्रेस पर बढ़त मिलती दिख रही है। चैनल के मुताबिक बीजेपी को इस बार गुजरात में करीब 111 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है। इस मामले में कांग्रेस बीजेपी से पिछड़ती दिखाई दे रही है और उसे करीब 68 सीटें मिलने की संभावना है। ऐसी स्थिति में बीजेपी एक बार फिर गुजरात में सरकार बनाने में कामयाब होगी और यह कांग्रेस के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं होगा।